न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

दक्षिणी छोटानागपुर पुलिस ड्यूटी मीट शुरू, अनुसंधान की बारीकियों पर चर्चा

पांच जिलों के 76 प्रतिनिधि ले रहे हैं भाग

258

Ranchi: रांची पुलिस लाइन में सोमवार को दक्षिणी छोटानागपुर पुलिस ड्यूटी मीट शुरू हुआ जो 31 अगस्त तक चलेगा. इस अवसर पर कार्यक्रम का आयोजन किया गया. कार्यक्रम का उद्घाटन रांची रेंज के डीआइजी एवी होमकर ने किया. इस अवसर पर रांची एसएसपी अनीश गुप्ता सहित कई वरीय पुलिस अधिकारी मौजूद थे. बता दें कि राजधानी में पुलिसकर्मियों को अनुसंधान की बारीकियों को समझने और वारदातों को त्वरित गति से सुलझाने के लिए एक पहल की गयी. बता दें कि 31 अगस्त तक चलनेवाले पुलिस ड्यूटी मीट में पांच जिलों के 76 प्रतिनिधि ले रहे हैं भाग.

इसे भी पढ़ें – बोकारो : बोकारो थर्मल में कोयला के अवैध ठिकानों पर छापेमारी, 100 टन कोयला जब्त

पांच जिले के पुलिस पदाधिकारी ले रहे हैं हिस्सा

सोमवार को शुरू हुए पुलिस ड्यूटी मीट में दक्षिणी छोटानागपुर रेंज के रांची, खूंटी, सिमडेगा, गुमला और लोहरदगा के पुलिस पदाधिकारी हिस्सा ले रहे हैं. इस मीट से अपराध के अनुसंधान से संबंधित जानकारियों को सीखने समेत बढ़ते अपराध के दायरे के वैज्ञानिक अनुसंधान के तहत अपराधियों के खिलाफ कार्रवाई और जांच के दौरान साक्ष्य जुटाने में पुलिसकर्मियों को फायदा मिलेगा.

इसे भी पढ़ें – नक्सलियों के खात्मे के लिए गृह मंत्री की नक्सल प्रभावित राज्यों के मुख्यमंत्री के साथ बैठक,  देश के 30 नक्सल प्रभावित जिलों में झारखंड के 13 जिले

पुलिसकर्मी अनुसंधान के वैज्ञानिक गुर सीखेंगे

इस मीट के उद्घाटन के दौरान रांची रेंज के डीआइजी अमोल वी होमकर ने कहा कि पुलिसकर्मी अनुसंधान के वैज्ञानिक गुर सीख कर बेहतर काम करेंगे. तब ही आपराधिक वारदात के साक्ष्य जुटा कर उन्हें सजा दिला सकेंगे. उन्होंने कहा कि अपराध पर नियंत्रण तब होगा जब मजबूत साक्ष्यों के आधार पर कोर्ट उन्हें सजा देगी. उन्होंने कहा कि यह प्रतियोगिता एक प्रकार का अभ्यास है. जो राज्य स्तर से लेकर राष्ट्र स्तर तक की प्रतियोगिता में पुलिसकर्मियों को अपनी दक्षता साबित करने का मौका देती है. वहीं, एसएसपी अनीश गुप्ता ने कहा कि पुलिस का मूल काम अनुसंधान और वारदातों से पर्दाफाश करने का है. इस प्रतियोगिता में सीखे गये गुर और ज्ञान का प्रदर्शन बेहद अहम है जो अनुसंधान में काम आता है.

5 जिलों के 76 प्रतिनिधि शामिल

बता दें कि पुलिस ड्यूटी मीट में पांच जिलों के 76 प्रतिनिधि भाग ले रहे हैं. जो वैज्ञानिक और तकनीकी ज्ञान का प्रदर्शन करेंगे. जिसमें पुलिसकर्मियों के बीच विधि विज्ञान, अपराध अनुसंधान में नियम कानून, कोर्ट का फैसला और फिंगर प्रिंट विषय पर प्रतियोगिता आयोजित की गयी है. जमादार और कांस्टेबल स्तर के पुलिसकर्मियों के लिए पुलिस ऑब्जर्वेशन, कंप्यूटर जागरुकता और पुलिस पोर्टरेट, वैज्ञानिक अनुसंधान, फोटोग्राफी, वीडियोग्राफी, क्राइम चेकिंग, स्वान दस्ता समेत अन्य कई विषय पर प्रतियोगिता का आयोजन किया जायेगा.

इसे भी पढ़ें – मोदी सरकार ने केंद्रीय अप्रत्यक्ष कर एवं सीमा शुल्क बोर्ड  के 22 अफसरों को जबरन  रिटायर किया

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
क्या आपको लगता है हम स्वतंत्र और निष्पक्ष पत्रकारिता कर रहे हैं. अगर हां, तो इसे बचाने के लिए हमें आर्थिक मदद करें.
आप अखबारों को हर दिन 5 रूपये देते हैं. टीवी न्यूज के पैसे देते हैं. हमें हर दिन 1 रूपये और महीने में 30 रूपये देकर हमारी मदद करें.
मदद करने के लिए यहां क्लिक करें.-

you're currently offline

%d bloggers like this: