JharkhandJharkhand PoliticsLead NewsRanchi

सोरेन परिवार ने झारखंड को किया कलंकित और शर्मसार, बदली कार्यपालिका की परिभाषाः बाबूलाल मरांडी

Ranchi : पूर्व सीएम और भाजपा विधायक दल के नेता बाबूलाल मरांडी ने आज हेमंत सरकार पर हमला बोला. प्रेस वार्ता में कहा कि लोकतंत्र में विधायिका, कार्यपालिका और न्यायपालिका की परिभाषा, कार्य क्षेत्र तय है. पर 28 माह के कार्यकाल में सीएम हेमंत सोरेन और उनके परिवार ने करप्शन की कई गाथायें लिख दी हैं. सोरेन के भाई, पत्नी, सलाहकार, विधायक प्रतिनिधि और उसकी पत्नी सहित दूसरों ने अपनी करतूतों से देश दुनिया में झारखंड का नाम बदनाम कर दिया है. अफसर के ठिकानों से करोड़ों रुपये निकल रहे हैं.

कार्यपालिका मनमाने तरीके से काम कर रही है. सरकार अगर नियम संगत तरीके से काम कर रही होती तो आज झारखंड की यह हालत नहीं होती. वार्ता में प्रदेश प्रवक्ता सरोज सिंह भी उपस्थित थे.

इसे भी पढ़ें:आम और खास के बीच चर्चा का बाजार गरम, आखिर 17 मई को क्या होगा?

Catalyst IAS
SIP abacus

खनिज संसाधनों की लूट जारी

MDLM
Sanjeevani

बाबूलाल मरांडी ने कहा कि राज्य में खनिज संसाधनों की लूट जारी है. बालू का अवैध उठाव हो रहा है. गाड़ियां पकड़ी जा रही हैं. सदन में सवाल उठाने पर बार बार एक ही जवाब दिया जाता है. पत्थर खदानों में वैध से ज्यादा अवैध तरीके से काम हो रहे हैं. दारू के कारोबार मामले में भी टेंडर प्रक्रिया में छेड़छाड़ कर मनचाहे लोगों को शामिल किया गया.

बालू, कोयला के अवैध उठाव पर थानों में शिकायत पर कोई कार्रवाई नहीं हो रही है. चारों ओर लूट का साम्राज्य स्थापित हो गया है. जितने दिन यह सरकार राज्य में रहेगी, राज्य का नुकसान है.

इसे भी पढ़ें:IAS पूजा सिंघल और सीए सुमन की रिमांड चार दिनों के लिए बढ़ी

रघुवर का दिया साथ

विधायक सरयू राय द्वारा रघुवर दास पर विभिन्न घोटालों के आरोप संबंधी सवाल के जबाव में बाबूलाल ने कहा कि वे वरिष्ठ नेता है. रघुवर सरकार में भी रहे थे. अभी जो सरकार है, उसे वे सलाह देते रहते हैं. ऐसे में उन्हें सरकार को सबूत देने, जांच कराने से किसने रोका है. रघुवर कह चुके हैं कि अगर कोई मामला उनके खिलाफ है तो सरकार जांच करा ले. रघुवर कहीं भाग नहीं रहे. सरकार भी सरयू की बातों पर जांच करा कर देख ले.

रांची डीसी पर सरकार मेहरबान

रांची डीसी छवि रंजन पर आरोपों के संबंध में पूछे गये सवाल पर कहा कि डीसी ने बाजरा, बरियातू में जमीन की लूट की है. उनके खिलाफ जांच भी हुई है. रिपोर्ट में उन पर एक्शन लेने की बात कही गयी है पर सरकार कोई कदम नहीं उठा रही.

इसे भी पढ़ें:झारखंड सरकार पर भड़की भाजपा, कहा- रघुवर दास की गिरफ्तारी को तैयार नहीं होने पर पुलिस पदाधिकारियों का किया तबादला

Related Articles

Back to top button