GiridihJharkhand

गिरिडीह : वृद्ध मां को टाटा मैजिक वाहन में लिटाकर चिकित्सक के यहां पहुंचा बेटा, चिकित्सक ने देखने से किया इंकार

Giridih : बाथरूम में गिरने से एक मां की कमर की हड्डी टूट गयी. बेटे ने चिकित्सक को फोन किया. उन्हें घर आने के लिए कहा. लेकिन चिकित्सक ने उसे अपने क्लिनिक पर बुलाया. फिर बेटा किसी तरह मालवाहक टाटा मैजिक वाहन से मां को लेकर चिकित्सक के पास पहुंचा. लेकिन पहुंचने में देर हो जाने पर चिकित्सक ने मां के इलाज से इनकार कर दिया. चिकित्सक ने कहा कि उन्होंने अपना पीपीई किट (Personal protective equipment kit) बंद कर दिया है. ये घटना आज गुरुवार को गिरिडीह शहर में घटी.

इसे भी पढ़ेंः #LockDown:  राज्य के 2 लाख कपड़ा व्यवसायियों के सामने उठने लगे भविष्य के सवाल, महीने भर में 500 करोड़ का नुकसान

ये है पूरा मामला 

युवक औऱ उसकी मां शहर के भोरणडीहा के रहने वाले हैं. औऱ चिकित्सक हैं हड्डी रोग विशेषज्ञ सिहोडीह पटेल नगर के डा. रितेश कुमार. युवक का नाम अनूप कुशवाहा. उनका क्लिनिक युवक के घर से 10 किमी की दूरी पर है.  मां का नाम सुधा देवी है, जिनकी उम्र 70 साल है. चिकित्सक की ओर से इनकार करने के बाद निराश होकर युवक वापस लौटने लगा.

इसे भी पढ़ेंः धारावी में कोविड-19 के 11 नये मामले, झुग्गी-बस्ती इलाके में संक्रमितों की संख्या 71 और राज्य में 3000 के पार

लेकिन कमर टूटने के कारण और रास्ते में पुलिस के पूछताछ से परेशान होने को लेकर वह एक स्थान पर रुका. इस दौरान किसी तरह सिविल सर्जन को जानकारी मिली. सिविल सर्जन ने अनूप को सदर अस्पताल आने को कहा है. जहां उसकी बहन भी उसके साथ गयी है. अनुप ने बताया कि उसके पास कार भी है, लेकिन पुलिस की जांच की वजह से उसने लॉकडाउन की वजह से कार पर मां को लाना सही नहीं समझा.

इसे भी पढ़ेंः #CoronaVirus से जूझ रहे देशों को एक हजार अरब डॉलर की मदद देने की तैयारी में IMF

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: