न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

इंटक जिलाध्यक्ष, जिला परिषद सदस्य के बेटे सहित लूटकांड के पांच आरोपी गिरफ्तार, दो फरार

डॉन अखिलेश सिंह के नाम पर रंगदारी मांगने के मामले में भी नाम आया था इंटक जिलाध्यक्ष का

605

Hazaribaug:  केरेडारी में 25 जुलाई को एक लाख पच्चीस हजार रुपए के लूटकांड का पुलिस ने खुलासा कर दिया है. इस मामले में इंटक के जिलाध्यक्ष प्रीतम सिंह, केरेडारी दक्षिणी जिला परिषद सदस्य अनिता सिंह के पुत्र विक्की सिंह सहित पांच आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया.

इसे भी पढ़ें-स्टेन स्वामी ने सरकार और जनता के नाम लिखी खुली चिट्ठी- क्या मैं देशद्रोही हूं ?

क्या है पूरी घटना ?

मंगलवार को डीएसपी के के महतो, केरेडारी थाना प्रभारी बबलू कुमार ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर पूरे मामले की जानकारी दी. उन्होने बताया कि 25 जुलाई को केरेडारी के बैंक ऑफ इंडिया शाखा से कोदवे के अंसारुल, एक लाख पच्चीस हजार रुपये निकालकर यूनियन बैंक, चट्टी बरियातू शाखा में ऋण जमा करने जा रहा था. इसी बीच रास्ते में अपाची सवार तीन लोगों ने हथियार का भय दिखाकर रुपये लूट लिए. पीड़ित द्वारा शोर मचाने पर पुलिस और ग्रामीणों ने अपराधियों का पीछा किया. नायाखाप स्थित गोटमा नदी के पास अपने को घिरता देख अपराधी अपाची मोटरसाइकिल और हथियार छोड़ जंगल की ओर भाग गए.

इसे भी पढ़ें-कॉरपोरेट घरानों का भारतीय राजनीति में बढ़ता प्रभाव

जब्त बाइक की छानबीन के बाद बाइक मालिक अभिषेक यादव को गिरफ्तार किया गया. उससे पुछताछ के बाद घटना का खुलासा हो गया. पुलिस जांच के आधार पर घटना में कुल सात लोगों की संलिप्तता पाई गई, जिसमें पांच आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया.  बाकि बचे दो आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है.

इसे भी पढ़ें- धड़ल्ले से काटे जा रहे वन, जनसंवाद केन्द्र में शिकायत पर भी कार्रवाई नहीं

palamu_12

पांच गिरफ्तार, दो फरार और जब्त सामानों की सूची

एक लाख पच्चीस हजार की लूटपाट की घटना में अब तक जिन आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है, उसमें इंटक जिलाध्यक्ष प्रीतम सिंह व केरेडारी दक्षिणी जिला परिषद सदस्य अनिता सिंह का बेटा विक्की सिंह, अभिषेक यादव, इजाजुल अंसारी, दिलीप नायक, विक्की पासवान शामिल हैं. दो फरार छोटू साव और दीपक कुमार की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है. इनके पास से एक देशी लोडेड देशी कट्टा,एक गोली,दो बाइक,नगदी 4700 रुपया,चार फोन जब्त किया गया है.

इसे भी पढ़ें- कांके : दीपक झा के घर से मिले फिंगरप्रिंट की जांच में जुटी पुलिस

इसके पूर्व आरोपी विक्की सिंह पर भी बैंक से धोखाधड़ी कर रुपए निकासी के आरोप लग चुका है. आपसी समझौता के बाद मामला दर्ज नही किया गया था. विदित हो कि आरोपी विक्की सिंह के घर के ऊपर बैंक ऑफ इंडिया का शाखा है. वहीं से वह रुपए निकालने वाले पर नजर गड़ाए रखा था  और अपराधियों को इसी ने सूचना दी थी.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

%d bloggers like this: