Crime NewsJamshedpurJharkhand

Jamshedpur : पीठ पर बरस रही बुढ़ापे की लाठी, कभी घर तो कभी दुकान पहुंचकर पीटता है बेटा

Jamshedpur : संतान की अच्छी परिवेश और भविष्य की चिंता करनेवाले पिता पर ही बच्चों ने संपत्ति के लिए जानलेवा हमला कर द‍िया. घटना जमशेदपुर के टेल्को बजरंगी बगान इलाके की है. यहां रहने वाले विजय कुमार पोद्दार के साथ विगत 5 वर्षों से मारपीट की घटना घटती आ रही है. विजय कुमार पोद्दार की परसुडीह में फोटो फ्रेमिंग की डायमंड कांचघर नाम से दुकान है. उन्‍होंने 1990 में नीतू देवी से विवाह क‍िया था, लेकिन माता-पिता के गलत व्यवहार और बच्चों की अच्छी परवरिश को लेकर अपने तीनों बच्चों को लेकर बर्मामाइंस में अलग रहने लगे.

इसी बीच 2008 में पत्नी नीतू देवी को कैंसर होने की जानकारी मिलने पर  बच्चों के साथ वापस अपने माता-पिता के पास आ गए. हालांक‍ि,  कुछ महीने बाद ही 28 दिसंबर को नीतू देवी की मौत हो गई. विजय ने बच्चों के लालन -पोषण में कोई कसर नहीं छोड़ी. खुद और बच्चों की देखभाल करनेवाला कोई नहीं होने की वजह से उन्‍होंने 2010 में बेगूसराय की रहनेवाली विधवा हीरा देवी से विवाह कर ल‍िया और उसके एक पुत्र शिवम कुमार के साथ अपने अन्य तीनों बच्चों के साथ रहने लगे. इधर, तीनों बच्चे भी काफी बड़े हो चुके थे. जिसका फायदा उठाते हुए विजय कुमार के माता – पिता और अन्य रिश्तेदारों ने तीनों बच्चों को पिता के खिलाफ भड़काते हुए संपत्ति पर हक जताने लगे.  पुत्र हेमंत ने भी मानगो की एक युवती से प्रेम विवाह कर लिया. जिसके बाद अक्सर बेटा हेमंत कुमार पिता से पैसों की मांग करता रहता है.

बार-बार कर देता है प‍िटाई
पैसे नहीं देने पर कभी दुकान तो कभी घर में ही उनकी पिटाई कर देता है. रव‍िवार रात विजय कुमार, पत्नी हीरा देवी और पुत्र शिवम दुकान से वापस लौटे तो खाना बनाने को लेकर हीरा देवी और हेमंत की पत्नी के साथ विवाद हो गया. व‍िवाद के बाद हेमंत और उसकी पत्नी ने पहले हीरा देवी की जमकर पिटाई की. इस बीच बचाव करने आये उसके पुत्र शिवम और पति विजय कुमार पर भी जानलेवा हमला कर दिया. किसी तरह तीनों जान बचाकर घर से भागे और टेल्को थाना में इसकी शिकायत की. लेकिन थाना द्वारा किसी प्रकार की सुनवाई नहीं होने पर तीनों एसएसपी के पास पहुंचे और अपने बच्चों एवं परिवार के अन्य लोगों के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग करते हुए जान -माल की रक्षा की गुहार लगाई है.

ये भी पढ़ें- आखिर प्रेम प्रकाश ने ED को क्या कहा, जिसने सांसद निशिकांत ने रोंगटे खड़े कर दिये, क्या है रास लीला, अर्थ लीला, अनर्थ लीला, मोक्ष लीला का सच!

Related Articles

Back to top button