Corona_UpdatesNational

मध्यप्रदेश, बिहार, तेलंगाना में कुछ जिले Covid-19 के लिहाज से सबसे अधिक संवेदनशील: स्टडी

स्टडी में कहा गया है कि झारखंड में भी कोविड-19 महामारी का सबसे बुरा असर पड़ा है.

New Delhi: दुनिया की सबसे पुरानी और प्रसिद्ध मेडिकल मैगजीन में से एक ‘द लांसेट’ के एक अध्ययन के अनुसार, मध्य प्रदेश के कुछ जिले कोविड-19 वैश्विक महामारी के लिहाज से सबसे अधिक संवेदनशील हो सकते हैं. उनके बाद बिहार तथा तेलंगाना के कुछ जिलों में इस वैश्विक महामारी का सबसे बुरा असर पड़ सकता है. अध्ययन में इन राज्यों में आवास, स्वच्छता और स्वास्थ्य प्रणाली जैसे अहम मानकों का विश्लेषण किया गया है.

नयी दिल्ली स्थित जनसंख्या परिषद के राजीव आचार्य समेत अन्य वैज्ञानिकों के अनुसार, अनुसंधान में संवेदनशीलता का मतलब संक्रमण के नतीजों के खतरों से है. जिसमें संक्रमण का प्रसार, मरीजों की संख्या, मृत्यु दर और महामारी के सामाजिक एवं आर्थिक प्रभाव शामिल हैं.

इसे भी पढ़ेंःझारखंड में PMGAY का हालः डबल इंजन की सरकार में 1,88,432 आवास रह गये अधूरे

झारखंड में भी महामारी का बुरा असर

अध्ययन में कहा गया है कि 30 बड़े राज्यों में नौ राज्यों मध्य प्रदेश, बिहार, तेलंगाना, झारखंड, उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, पश्चिम बंगाल, ओडिशा और गुजरात में कोविड-19 महामारी का सबसे बुरा असर पड़ा है.

वैज्ञानिकों ने अध्ययन में कहा, ‘हमारे सूचकांक का मकसद नीति निर्माताओं को कोविड-19 महामारी से निपटने में बेहतर तैयारी के लिए संसाधनों का आवंटन करने और जोखिम दूर करने की रणनीतियां बनाने के लिए क्षेत्रों का चयन करने में मदद करना है.’

उन्होंने भारत में कई संवेदनशील जिलों की पहचान की है जहां अभी कोविड-19 के ज्यादा मामले नहीं है लेकिन वे इस महामारी से बुरी तरह प्रभावित हो सकते हैं. अध्ययन में जहां इस संक्रामक रोग के लिहाज से मध्य प्रदेश को सबसे अधिक संवेदनशील बताया गया है, वहीं सिक्किम में इसका सबसे कम असर पड़ेगा.

शोधकर्ताओं ने कहा कि इस अध्ययन में इस्तेमाल डाटा दो से पांच साल पुराना है और ऐसा हो सकता है कि उन जिलों में संवेदनशीलता का सटीक आकलन न हो जहां अभी तक बहुत तेजी से बदलाव हुए हैं.

adv

इसे भी पढ़ेंःबड़कागांव: NTPC के कोल ट्रांस्पोर्टिंग से प्रदूषण फैलाने के मामले में NGT ने बनायी 4 सदस्यीय कमेटी, याचिकाकर्ता भी सदस्य 

advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: