BiharChatraJharkhandLead News

बिहार के नाबालिग को चतरा से मुरादाबाद ले जाकर 60 हजार में बेचा

लापता बच्चे के माता-पिता ने हंटरगंज थाने में दर्ज कराया केस

Chatra:  हंटरगंज थाना क्षेत्र से एक नाबालिग छात्र को बाल मजदूर तस्करों के द्वारा यूपी के मुरादाबाद में बेच देने का सनसनीखेज मामला प्रकाश में आया है. बिहार के इमामगंज थाना क्षेत्र के मल्हारी गांव के लापता बच्चे की माता सविता देवी और पिता मंजय भारती ने मामला दर्ज करवाया है.

 

मामले में हंटरगंज वशिष्ट नगर थाना क्षेत्र के लेढो गांव के राजेश यादव, तेलिओना गांव के राजेश भुइयां और जवादोहर गांव के राजू भारती के द्वारा बच्चे को बेच देने का आरोप लगाया है. लापता बच्चे के माता-पिता ने बताया कि उनका 14 वर्षीय बेटा अंतोष कुमार अपने भाई के ससुराल हंटरगंज के बेलवाहीटांड आया था. जहां से राजू भारती ने अंतोष के चचेरा भाई उपेश भारती और अंतोश को काम दिलवाने के नाम पर राजेश यादव और राजेश भुइयां के साथ मिलकर उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद ले गए.

 

बताया है कि काफी दिन बीत जाने के बाद भी अंतोष के घर वापस नहीं लौटने पर घरवाले ने खोजबीन शुरू की. जिसके बाद बच्चे के मुरादाबाद में होने की जानकारी मिली. बताया गया कि अंतोष को मुरादाबाद के ताकिपूरा गांव के मोनू जाट के घर नौकर के रूप में काम करने के नाम पर 60 हजार में बेच दिया गया है. राजू भारती के अनुसार राजेश यादव और राजेश भुइयां क्षेत्र से बड़ी संख्या में बच्चों को मुरादाबाद ले गए हैं. शिकायत मिलने के बाद पुलिस ने मामले की छानबीन शुरू कर दी है.

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: