JharkhandLead NewsRanchi

रांची के सिकिदरी नहर पर लग रहा सोलर प्लांट, तैयार होगी 2 मेगावाट बिजली

Ranchi: राज्य के नहरों से सौर उर्जा का उत्पादन किया जायेगा. इसकी शुरूआत सिकिदरी हाईडल पावर प्लांट से की जा रही है. सिकिदरी नहर के ऊपर झारखंड रिन्यूएबल एनर्जी डेवलपमेंट एजेंसी (JREDA) की ओर से सोलर पैनल लगाये जा रहे हैं. जिससे दो मेगावाट बिजली का उत्पादन होगा. पायलट प्रोजेक्ट के तहत काम किया जा रहा है. उत्पादित बिजली रांची और रामगढ़ को दी जायेगी. जरेडा की माने तो सौर उर्जा को बढ़ावा देने के लिये अलग अलग आयामों पर काम किया जा रहा है. जिसमें एक कैनाल रूफ टॉप है. नहरों का उपरी भाग किसी अन्य काम में इस्तेमाल नहीं होता है. ऐेसे में नहरों में सोलर रूफ टॉप लगाने से बिजली उत्पादन की संभावनाएं बढ़ेंगी. आने वाले समय में अन्य नहरों में भी पैनल लगाये जायेंगे.

इसे भी पढ़ें : रांची के शहरी रोड नेटवर्क को विकसित करने के लिए तैयार हो रही कार्ययोजना,मिलेगी जाम से मुक्ति

बंद रहता है सिकिदरी प्लांट

सिकिदरी हाईडल पावर प्लांट राज्य का एक मात्र पावर प्लांट है. जहां से 130 मेगावाट बिजली उत्पादन होती है. लेकिन पानी की कमी के कारण साल में लगभग सात से आठ महीने बंद रहता है. पिछले साल दिसंबर में भी प्लांट बदं कर दिया गया. जो अब तक बंद है. ऐसे में प्लांट में उर्जा उत्पादन के अन्य स्रोतों को बढ़ावा दिया जा रहा है. जानकारी हो कि प्लांट में इस साल दिसंबर से ही पानी की कमी है. गर्मियों में पेयजल आपूर्ति के लिये प्लांट बंद किया गया.

सौ मेगावाट बिजली नहरों से उत्पादन का लक्ष्य

जरेडा की माने तो राज्य के नहरों से सौ मेगावाट सौर बिजली उत्पादन का लक्ष्य है. जिससे आने वाले पांच सालों में पूरा करना है. इसी के तहत राज्य के नहरों में सोलर पैनल लगाये जा रहे है. इसका मुख्य उद्देश्य ग्रामीणों की जरूरतों को सौर उर्जा से पूरा करना है.

इसे भी पढ़ें : बजट खर्च करने में ग्रामीण विकास विभाग सुस्त, तीन माह में खर्च करने होंगे 4700 करोड़

Advt

Related Articles

Back to top button