JharkhandRanchi

सख्त सरकार की पार्टी नरमः गिलुआ बोले- काम पर लौटें पारा शिक्षक, मांगों पर करेंगे विचार

Ranchi: प्रदेश भाजपा अध्यक्ष लक्ष्मण गिलुवा ने संवाददाता सम्मेलन कर कहा कि भाजपा सभी पारा शिक्षकों से अपील और प्रार्थना करती है कि वे काम पर लौट जाएं. वापसी के बाद पारा शिक्षकों के नेताओं से सरकार अच्छे वातावरण में बात करेगी. श्री गिलुवा ने कहा कि राज्य की सरकार का प्रयास है कि वे पारा शिक्षकों की उचित मांगों को मान लें. उन्होंने कहा कि पारा शिक्षकों के काम पर वापस हो जाने की स्थिति में वैकल्पिक नियुक्ति की प्रक्रिया को रोक दी जाएगी. सरकार की पारा शिक्षकों पर सख्ती के सवाल पर उन्होंने जवाब देते हुए कहा कि सरकार पार्टी की ही है, पार्टी इस संदर्भ में सरकार से बात कर चुकी है.

बर्खास्तगी हो सकती है वापस

पार्टी अध्यक्ष लक्ष्मण गिलुवा की बातों से ऐसा स्पष्ट था 280 पारा शिक्षकों की बर्खास्तगी को सरकार वापस ले सकती है. पारा शिक्षक अगर काम पर वापस लौट जाते हैं और सरकार से सार्थक बातचीत के जरिये बर्खास्त पारा शिक्षकों की वापसी की मांग करते हैं तो सरकार बर्खास्तगी के निर्देश को वापस ले सकती है. श्री गिलुवा ने कहा कि पहले पारा शिक्षक काम पर लौटें उसके बाद सरकार पारा शिक्षक के नेताओं से बातचीत करेगी.

Catalyst IAS
ram janam hospital

रोक दी जाएगी नियुक्ति प्रक्रिया

The Royal’s
Sanjeevani

पारा शिक्षक अगर काम पर वापस लौट जाते हैं तो उनके स्थान पर होनेवाली नियुक्ति प्रक्रिया रोक दी जाएगी. पारा शिक्षकों के हड़ताल पर जाने के कारण वैकल्पिक व्यवस्था को देखते हुए सरकार ने टेट पास अभ्यथियों से आवेदन मांगे थे. अभी सरकार राज्य के सभी जिलों में उनकी बहाली को लेकर विज्ञापन निकाल चुकी है. आवेदन भी आने लगे हैं.

पारा शिक्षकों को सबसे अधिक सुविधा झारखंड में

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि पूरे देश में सबसे अधिक सुविधा पारा शिक्षकों को झारखंड में मिलती है. पारा शिक्षकों के मानदेय को 20 प्रतिशत और बीएड प्रशिक्षित पारा शिक्षकों को अतिरिक्त 10 प्रतिशत की बढ़ोतरी और कल्याण कोष को 5 से 10 करोड़ और मातृत्व अवकाश को माना गया. साथ ही शिक्षक नियुक्ति में पारा शिक्षकों को 50 प्रतिशत से अधिक आरक्षण की मांग मानी जा चुकी है. पारा शिक्षकों के काम पर लौटने के बाद सरकार अन्य उचित मांगों को भी मानेगी.

इसे भी पढ़ें – केंद्रीय कृषि मंत्री राधा मोहन सिंह करेंगे ग्लोबल एग्रीकल्चर एंड फूड समिट का उद्घाटन

Related Articles

Back to top button