न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

सामाजिक संस्थाएं नाम के लिए नहीं, जरूरतमंदों की मदद करने के लिए काम करें : ख्याति

68

Ranchi : जरूरतमंदों में हुनर की कमी नहीं होती. बस इन्हें अवसर नहीं मिल पाता. समाजसेवा कर रहीं संस्थाओं को इस बात पर ध्यान देना चाहिए कि सिर्फ नाम के लिए नहीं, बल्कि ऐसे लोगों को मदद पहुंचाने के लिए काम करें. उक्त बातें रोटरी क्लब की ओर से संचालित सहेली सेंटर की प्रोजेक्ट अध्यक्ष ख्याति मुंजाल ने कहीं. वह सहेली सेंटर की प्रशिक्षुओं के साथ गुरुवार को हुई बैठक को संबोधित कर रही थीं. उन्होंने कहा कि सहेली सेंटर से जुड़कर ग्रामीण महिलाएं सबल बन रही हैं. छह माह से चल रहे इस प्रोजेक्ट से अब तक लगभग 40 महिलाएं जुड़ गयी हैं. इसमें सिर्फ जरूरतमंद महिलाओं और युवतियों को जोड़ा गया है. ख्याति ने जानकारी दी कि क्लब की ओर से भविष्य में और भी ऐसे प्रोजेक्ट शुरू किये जायेंगे, जो लोगों को सीधे लाभ पहुंचायें. प्रोजेक्ट की जानकारी देते हुए उन्होंने बताया कि इस प्रोजेक्ट के तहत एक सौ रुपये में महिलाएं सिलाई सीख रही हैं.

सामाजिक संस्थाएं नाम के लिए नहीं, जरूरतमंदों की मदद करने के लिए काम करें : ख्याति

रोजगार का बेहतर विकल्प

ख्याति ने कहा कि ग्रामीण महिलाओं के पास रोजगार का अधिक विकल्प नहीं होता. ऐसे में इन महिलाओं को उनके क्षेत्र में ही प्रशिक्षित कर रोजगार सृजन किया जा सकता है. इसके लिए क्लब प्रयासरत है. प्रशिक्षुओं को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि किसी भी हुनर का मतलब यह नहीं कि उसे घर तक सीमित रखें. धनार्जन के लिए इसका उपयोग करें, तभी प्रशिक्षण सफल होगा. उन्होंने बताया कि 10 फरवरी से नये बैच की शुरुआत की जायेगी.

रोजगार के लिए किया था संपर्क

सह अध्यक्ष खुशबू राजगढ़िया ने बताया कि कई महिलाएं पहले भी रोजगार के लिए क्लब से संपर्क कर चुकी हैं. ऐसे में महिलाओं की जरूरत को ध्यान में रखते हुए इसका निर्णय लिया गया. सहेली सेंटर प्रोजेक्ट की शुरुआत अच्छी हुई है. उन्होंने उम्मीद जताते हुए कहा कि आनेवाले दिनों में और भी महिलाएं इससे जुड़ेंगी. मौके पर निशि जायसवाल, अनिता शर्मा, कांति देवी, राज किरण, मोनी कुमारी समेत अन्य लोग उपस्थित थे.

इसे भी पढ़ें- विकास योजना का हाल : गरीब विधवा मुन्नी देवी और उनके बच्चों को एक साल से नसीब नहीं हुई है दाल

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: