JharkhandRanchi

पीएम आवास योजना से सोशल मोबलाइजेशन को मिला बढ़ावाः विजया जाधव

  • प्रोजेक्ट बिल्डिंग सभागार में आवास पर संवाद कार्यक्रम का आयोजन
  • 46 हजार भूमिहीनों को घर दिया गया

Ranchi: प्रधानमंत्री आवास योजना के माध्यम से न केवल लोगों को आवास दिया जा रहा है, बल्कि सरकार की विभिन्न योजनाओं का लाभ देकर गरीब और वंचित परिवारों को सशक्त बनाने का भी प्रयास किया जा रहा है. ये बातें नगर विकास निदेशालय की निदेशक विजया जाधव ने प्रोजेक्ट बिल्डिंग सभागार में आयोजित आवास पर संवाद कार्यक्रम में कही.

इसे भी पढ़ें: Jharkhand Cabinet: 224 करोड़ हुआ कांटाटोली ओवरब्रिज का बजट, सुकुरहुट्टू में 49 एकड़ में बनेगा ट्रांसपोर्ट नगर

Catalyst IAS
ram janam hospital

लाभुकों से संवाद कर उनके विचार जानना उद्देश्य

The Royal’s
Sanjeevani
Pitambara
Pushpanjali

विजया जाधव ने कहा कि आजादी के 75 वर्ष पूरे होने के उपलक्ष्य में आयोजित अमृत महोत्सव के पूर्व सरकार की विभिन्न योजनाओं के क्रियान्वयन को लेकर सीधे लाभुकों से संवाद कर उनके विचारों से अवगत होना है. साथ ही उन्हें कल्याणकारी योजना से जोड़ना है.

उन्होंने कहा कि पीएम आवास योजना में महिलाओं को भी को- ओनरशिप प्रदान किया जा रहा है, ताकि उन्हें उनका हक दिया जा सके.

आवास पर संवाद कार्यक्रम के उद्देश्य की जानकारी देते हुए उन्होंने कहा कि कार्यक्रम का उद्देश्य ऐसे लोगों को एक मंच प्रदान करना है, जो वंचित हैं और जो पीएम योजना में परोक्ष रूप से अपनी भूमिका निभा रहे हैं.

इसे भी पढ़ें :पूर्व मंत्री एनोस एक्का के जब्त बंगले में खुला ईडी का दफ्तर

1.57 लाख आवास स्वीकृत, 77 हजार पूर्ण

आवास योजना शहरी की जानकारी देते हुए उन्होंने कहा कि इसके कुल चार अवयव हैं. उनमें से राज्य में तीन अवयवों पर काम हो रहा है. अब तक 1.57 लाख आवास स्वीकृत किए गए हैं. उसमें से 77 हजार आवास पूर्ण हो चुके हैं. 50 हजार आवास निर्माण का काम तीव्र गति से चल रहा है.

उन्होंने बताया कि 46 हजार भूमिहीनों को घर दिया गया है. बताया कि सरकार ने स्लम एरिया को चिह्नित किया है. साथ ही ऐसे इलाकों में 15 हजार 817 आवास की स्वीकृति प्रदान की जा चुकी है.

सामाजिक अंकेक्षण के विशेषज्ञ श्री गुरमीत सिंह ने कहा कि कन्वर्जन लेवल पर भी काम किया जा रहा है. सोसल ऑडिट से भी सोशल मोबलाइजेशन हुआ है. लोगों में सरकार की योजना को लेकर जागरूकता आई है.

इसे भी पढ़ें :लातेहार में नक्सलियों और पुलिस के बीच मुठभेड़, एक नक्सली मारा गया, झारखंड जगुआर के डिप्टी कमांडेंट घायल

जेवियर इंस्टीट्यूट ऑफ सोशल सर्विस के पूर्व निदेशक डॉक्टर अमर एरॉन तिग्गा ने कहा कि पीएम आवास योजना से कई सामाजिक बदलाव आये हैं.

आवास के साथ सरकार की ओर से रसोई गैस, बिजली, पानी की सुविधाएं उपलब्ध होने से वंचितों के बच्चे तरक्की के सपने देखते हैं और उसे पूरा करने का प्रयास भी करते हैं. उन्होंने आवास योजना में कम्युनिटी हॉल, मेडिकल, स्पोर्ट्स की सुविधा प्रदान करने का भी सुझाव दिया.

इसे भी पढ़ें :नक्सलियों से मुठभेड़ में डिप्टी कमांडेंट की शहादत पर सीएम ने जताया दुख

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए नगर विकास विभाग के चीफ टाउन प्लानर गजानंद राम ने सरकार के लाइट हाउस प्रोजेक्ट पर प्रकाश डाला. उन्होंने कहा कि लोगों की जरूरत के अनुरूप सुविधाएं इस प्रोजेक्ट के तहत देने का प्रयास है.

आवास पर संवाद कार्यक्रम में राष्ट्रीय स्तर के विशेषज्ञों के साथ राज्य भर के लाभुकों को ऑनलाइन जोड़ा गया था, जिसमें सभी ने अपने अनुभवों को साझा करते हुए विचार रखे.

कार्यक्रम के तृतीय सत्र में हाउसिंग फाइनेंस से संबंधित विषय पर चर्चा की गई जिसमें हुडको सहित एचडीएफसी के क्लस्टर हेड धर्मेन्द्र कुमार, केनरा बैंक के डीजीएम अरूण कुमार ने वित्त संबंधित जानकारी दी. कार्यक्रम में राज्य के विभिन्न नगर निकाय के पदाधिकारी और लाभुक ऑनलाइन शामिल हुए.

इसे भी पढ़ें :जब रोड बनाने के लिए विधायक जी खुद उठाने लगे मिट्टी

Related Articles

Back to top button