Fashion/Film/T.V

सोशल मीडिया स्टार रानू मंडल बेटी का विवादित बयान, कहा- मां की दिमागी हालत ठीक नहीं

Kolkata: सोशल मीडिया स्टार रानू मंडल इन दिनों किसी ना किसी बात को लेकर लगातार चर्चा में हैं. पहले तो रानू मंडल का रेलवे स्टेशन पर गाना गाते हुए वीडियो वायरल हुआ है.

जिसके बाद वह देखते ही देखते सोशल मीडिया पर छा गयी. इसके बाद हिमेश रेशमिया ने रानू मंडल को अपनी फिल्म हैप्पी हार्डी एंड हीर के लिए तीन गाने रिकॉर्ड करवाये हैं. और देखते ही देखते रानू की जिंदगी बदल गयी. वह फर्स से अर्स पर आ गयी.

इसे भी पढ़ें-PMMVY का लाभ मात्र 25 प्रतिशत महिलाओं को, राज्य में हो रहा राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम का उल्लंघन : ज्यां द्रेज

ram janam hospital
Catalyst IAS

मां की दिमागी हालत ठीक नहीं: एलिजाबेथ साथी रॉय

The Royal’s
Sanjeevani
Pushpanjali
Pitambara

लेकिन अब रानू मंडल को लेकर उनकी बेटी एलिजाबेथ साथी रॉय का एक बयान सामने आया है. जिसमें उसने दावा किया है कि उसकी मां की दिमागी हालत ठीक नहीं है. साथ ही उसने वीडियो बनाने वाले युवकों अतिंद्र चक्रवर्ती और तपन दास पर गंभीर आरोप लगाये हैं.

फिलहाल रानू मंडल गाना रिकॉर्ड कराने की वजह से मुंबई में है आर उनकी बेटी फिलहाल अपनी मां के लौटने का इंतजार कर रही हैं. एलिजाबेथ साथी रॉय ने एक इंटरव्यू में कहा कि अतिंद्र और तपन ऐसा दिखावा कर रहे हैं जैसे कि वो मेरी मां के सगे बेटे हैं.

इसे भी पढ़ें- झारखंड पर मंडरा रहा है रघुवर नामक संकट, खतरे में है राज्य की सभ्यता-संस्कृति : हेमंत सोरेन

क्या है रानू मंडल की बेटी का आरोप

उन्होंने और क्लब के दूसरे लोगों ने मुझे धमकी दी है कि अगर मैं अपनी मां के आसपास भी दिखायी दी तो वो मेरी टांगे तोड़कर फिंकवा देंगे.

वो मुझे मेरी मां से फोन पर भी बात नहीं करने देते हैं. वो मेरे खिलाफ मेरी मां को भड़का रहे हैं. एलिजाबेथ ने कहा कि वो दोनों इसलिए ऐसा कर रहे क्योंकि वो फेमस होना चाहते हैं. अगर ऐसा नहीं था तो फिर वो अपना काम छोड़कर मेरी मां के साथ मुंबई क्यों गये हैं.

तपन में मेरी मां से सामान खरीदने के लिए 10 हजार रुपये लिये थे. इन रुपयों से उसने सिर्फ एक सूटकेस और कुछ नाइटी खरीदी हैं. मुझे उनपर भरोसा नहीं है और मैं अपनी मां को सपोर्ट करूंगी चाहे कोई कुछ भी कहे.

इसे भी पढ़ें- #Chandrayaan 2 landing: गलसी स्थित #DPS की नौवीं की छात्रा यूसरा बनेगी ऐतिहासिक पल का गवाह

मां के लौटने का है इंतजार

साथी रॉय ने कहा कि मैं अभी ऐसे कुछ भी नहीं करना चाहती हूं जिसकी वजह से मेरी मां पर नकारात्मक प्रभाव पड़े. क्योंकि वो अपने काम पर ध्यान नहीं दे पायेंगी.

उनकी दिमागी हालत ठीक नहीं है और मीडिया भी उन्हें परेशान कर रही है. उसने कहा कि मां के मुंबई से वापस लौटने का इंतजार कर रही हूं. उनके लौटते ही मैं उन्हें मेरे साथ सूरी में रहने कि लिए कहूंगी, लेकिन मैं उन्हें फोर्स नहीं करूंगी.

अगर मां मुंबई में ही रहना चाहती हैं तो फिर मैं अपने बेटे के साथ उनके पास मुंबई में रहूंगी. मैं उनसे बहुत प्यार करती हूं और मुझे गर्व है कि मैं उनकी बेटी हूं.

Related Articles

Back to top button