ChaibasaJharkhand

चाईबासा : सामाजिक जागरूकता अभियान में पंचायतवासियों को दी गई ग्राम सभा का महत्व, संवैधानिक अधिकार व जनजातीय अधिकार की जानकारी

Chaibasa: पढ़ने-लिखने का मतलब सिर्फ नौकरी करना नहीं है. शिक्षा, ज्ञान परिवारिक कल्याण और सामाजिक विकास में सहायक सिद्ध होता है. आज सरकार की ओर से इतने सारे शिक्षण संस्थान एवं शैक्षणिक गतिविधियां चलाई जा रही हैं, अनिवार्य रूप से उसके हिस्सा बनें. उक्त बातें बंदगांव प्रखण्ड अंतर्गत लान्डुपोदा पंचायत में आयोजित सामाजिक जागरूकता अभियान के दौरान आदिवासी हो समाज युवा महासभा के केन्द्रीय महासचिव गब्बर सिंह हेम्ब्रम ने कहीं.

कोल्हान समन्वय मंच के सौजन्य से चल रहे सामाजिक जागरूकता अभियान कार्यक्रम के माध्यम से प्रबंध एनएसएस एवं आदिवासी हो समाज युवा महासभा की ओर से ग्राम सभा का महत्व, संवैधानिक अधिकार, जनजातीय अधिकार एवं सरकार की जनउपयोगी और कल्याणकारी व अन्य लाभकारी योजनाओं के बारे में पंचायतवासियों जानकारी दी गई. डालसा के पीएलवी मेम्बर जीदन मुन्डू ने जिला विधिक सेवा प्राधिकार के तहत कानूनी एवं न्याय सहायता के बारे में जानकारी दी तथा सीकेडी के सीएम राजेश कुमार नायक ने प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना के बारे में ग्रामीणों को बताया. आवेदन की प्रक्रिया को लेकर लोगों को जागरूक किया. इसके साथ ही असामाजिक, गैरजिम्मेदाराना तथा असंवैधानिक गतिविधियों के खिलाफ लोगों जागरूक एवं संगठित किया गया. इसके अलावा कोल्हान गर्वमेन्ट ईस्टेट के नाम पर चल रहे असंवैधानिक गतिविधि के प्रभाव में न आने के लिए अपील की गई और इसको लेकर उत्पन्न गतिरोध को दूर करने की अपील की गई.

इनकी रही मौजूदगी

Chanakya IAS
Catalyst IAS
SIP abacus

इस अवसर पर आदिवासी हो समाज युवा महासभा पूर्व केन्द्रीय समिति सचिव नीतिमा जोंको, चक्रधरपुर अनुमंडल अध्यक्ष मदन बोदरा, अनुमंडल कोषाध्यक्ष शीला कोड़ा, प्रबंध एनएसएस प्रतिनिधि ओएबन हेम्ब्रम, मुखिया अनिता कोड़ा, मानकी बिरसिंह सिजुई, चंपई दोराई, डेविड गागराई, करन सिंह गागराई, गोपीराम लामा, विजय हाईबुरू आदि पंचायतवासी मौजूद थे.

The Royal’s
MDLM
Sanjeevani

ये भी पढ़ें-जमशेदपुर : नाबालिग से दुष्कर्म कर गर्भवती करने के दोषी को 25 साल की सजा

Related Articles

Back to top button