lok sabha election 2019

वोटर हेल्पलाइन-1950 पर अब तक 35,382 मतदाताओं ने ली जानकारी

Ranchi: राज्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय समेत जिलों में वोटर हेल्पलाइन नंबर 1950 पर मतदाताओं के लगातार फोन आ रहे हैं. अब तक हेल्पलाइन में 35,382 वोटरों ने मतदाता सूची में नाम होने के साथ-साथ पोलिंग बूथ का भी पता लगाया है. मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी एल खियांग्ते ने बताया कि मतदाताओं की सहूलियत के लिए निर्वाचन आयोग ने वोटर हेल्पलाइन जारी किया है. यह काफी कारगर साबित हो रहा है. पूरे राज्य से इसमें लगातार फोन आ रहे हैं. हेल्पलाइन से मतदाता पंजीयन, आवेदन जमा करने के बाद का स्टेट्स, मतदान केंद्र और लोकसभा क्षेत्र की जानकारी दी जा रही है. मतदाताओं को अपने निर्वाचन अधिकारी, चुनाव प्रक्रिया और ईवीएम के संबंध में भी 1950 से जानकारी दी जा रही है. हेल्पलाइन में मतदाता अपनी शिकायतें भी दर्ज करा सकते हैं. श्री खियांग्ते ने बताया कि वोटर हेलपलाइन पर लोग मतदान से संबंधित चुनावी प्रक्रिया की जानकारी भी ले रहे हैं. यह सब स्वीप कार्यक्रम के जरिये मतदाताओं को जागरुक करने के बाद हो रहा है.

इसे भी पढ़ें – झारखंड में 40 से 60 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चलेगी हवा, तेज बारिश के साथ वज्रपात की आशंका

28 जनवरी से काम कर रहा वोटर हेल्पलाइन नंबर

श्री खियांग्ते ने बताया कि झारखंड में वोटर हेल्पलाइन नंबर-1950, 28 जनवरी 2019 से शुरू किया गया है. मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी के कार्यालय में राज्य स्तरीय नियंत्रण कक्ष भी बनाया गया है. इसके लिए मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी के कार्यालय में राज्य नियंत्रण कक्ष के अलावा सभी जिलों में नियंत्रण केंद्र बनाए गए हैं. झारखंड में उप निर्वाची पदाधिकारी गीता चौबे को इसका नोडल अधिकारी बनाया गया है. राज्य नियंत्रण कक्ष के कर्मी लोगों की क्वेरी का समाधान कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि वोटर हेल्पलाइन नंबर 1950 के ज्यादा से ज्यादा लोगों द्वारा इस्तेमाल किए जाने  से मतदाताओं में जागरुकता के साथ मतदान प्रतिशत में बढ़ोत्तरी की उम्मीद की जा रही है. झारखंड में पहले चरण में 29 अप्रैल को चतरा, लोहरदगा और पलामू सीट के लिए हुए चुनाव में मतदान प्रतिशत का बढ़ना इसी बात का संकेत दे रहा है. उम्मीद है कि अगले चऱणों में होनेवाले चुनाव में भी मतदान प्रतिशत में अपेक्षित बढ़ोत्तरी होगी.

वोटर हेल्पलाइन नंबर पर किस जिले में कितने कॉल आये

जिले का नाम   कुल कॉल की संख्या    

साहेबगंज       1051

पाकुड़             378

दुमका             1290

जामताड़ा        823

देवघर             1042

गोड्डा               705

कोडरमा         2311

हजारीबाग       3052

रामगढ़            538

चतरा             1042

गिरिडीह        1617

बोकारो          2042

धनबाद          3707

ईस्ट सिंहभूम    3943

सरायकेला      584

वेस्ट सिंहभूम   778

रांची               3811

खूंटी              736

गुमला           715

सिमडेगा        242

लोहरदगा    728

लातेहार      936

पलामू         2096

गढ़वा          647

राज्य नियंत्रण कक्ष      568

कुल    35,382

इसे भी पढ़ें – धनबाद :  आरटीई नियमों की अनदेखी कर निजी स्कूलों में लिया जा रहा एडमिशन

Related Articles

Back to top button