न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

#JNU मामले में स्मृति ईरानी ने दीपिका पर आरोप, कहा- देश के टुकड़े चाहने वालों के साथ हुईं खड़ी

स्मृति ईरानी के पहले बीजेपी सांसद साक्षी महाराज ने भी दीपिका पर लगाया था आरोप.

738

New Delhi: सात जनवरी को दीपिका पादुकोण भी जेएनयू पहुंचीं और कन्हैया कुमार, आइशी घोष के साथ प्रदर्शन में शामिल हुईं. इसे लेकर दीपिका को बहुत से लोगों ने स्पोर्ट किया तो बहुत से लोगों ने इसकी आलोचना की.

इसे भी पढ़ें-  #PM_Modi की बजट चर्चा पर राहुल गांधी का तंज, बजट परामर्श घोर पूंजीवादी दोस्त और अमीरों के लिए ही आरक्षित है

क्या कहा स्मृति ईरानी ने

दीपिका जेएनयू जाने के बाद विवादों से घिर गयी हैं. लगातार उनपर कई तरह के आरोप लगाये जा रहे हैं. पिछले दिनों बीजेपी सांसद साक्षी महाराज ने दीपिका पर आरोप लगाया था. इसी कड़ी में अब केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने भी दीपिका पर वार किया है.

स्मृति ईरानी ने दीपिका पर निशाना साधते हुए कहा कि दीपिका उन लोगों के साथ खड़ी हुईं जो देश के टुकड़े करना चाहते हैं. उन्होंने आगे कहा कि जिसने भी दीपिका की जेएनयू जाने की खबर पढ़ी होगी वह जानना चाहता होगा कि वह आखिर प्रदर्शनकारियों के बीच क्यों गईं. वह उनके साथ खड़ी हुईं, जिन्होंने लाठियों से लड़कियों के प्राइवेट पार्ट्स पर हमला किया.

Related Posts

#NPR पर महाराष्ट्र में तकरार, उद्धव ठाकरे को कांग्रेस ने चेताया, मनमानी नहीं चलेगी…

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे राज्य में NPR अपडेट करने की कवायद शुरू कर रहे हैं. उसके गठबंधन सहयोगी कांग्रेस और एनसीपी इसके विरोध में हैं.

इसे भी पढ़ें- जानें किस आधार पर मोमेंटम झारखंड घोटाले में रघुवर दास के अलावा चार IAS को बनाया गया है आरोपी

10 मिनट तक कैंपस में रहीं थी दीपिका

प्रदर्शन में कन्हैया कुमार ने ‘जय भीम’ के नारे लगवाये. काले कपड़ों में पहुंची दीपिका भी छात्रों का समर्थन कर रही थीं. वह 10 मिनट तक कैंपस में रहीं. उसके बाद बिना कुछ बोले चली गयीं.

जेएनयू हमले के बाद दीपिका पादुकोण पांच जनवरी को कैंपस पहुंची थी. जेएनयू में हुए हमले के खिलाफ कई बॉलिवुड कलाकर सड़कों पर उतरे थे. इसमें अनुराग कश्यप, अनुराग बसु, तापसी पन्नू, गौहर खान, विशाल भारद्वाज, रेखा भारद्वाज, रिचा चड्ढा, अली फजल, रीमा कागती, दीया मिर्जा आदि शामिल हैं.

गौरतलब है कि जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी में हुई हिंसा के बाद देश के कई हिस्सों में प्रदर्शन चल रहा है. पांच जनवरी को नकाबपोश हमलावरों ने यूनिवर्सिटी कैंपस में तोड़फोड़, मारपीट की थी.

दिल्ली पुलिस ने इस मामले में जांच शुरू कर दी है. अभी तक किसी हमलावर को गिरफ्तार नहीं किया गया है. हांलाकि घटना के चार दिन के बाद पुलिस ने यह कहा है कि उसने इस हमले के संबंध में कुछ संदिग्धों की पहचान की है.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like