न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

लाखों खर्च कर बनाये गए स्मार्ट क्लास धीरे-धीरे बन रहे कबाड़

स्मार्ट क्लास में पढ़ाने के लिए नहीं हैं स्मार्ट शिक्षक

461

सत्य प्रकाश प्रसाद
Ranchi: श्यामा प्रसाद मुखर्जी विश्वविद्यालय (एसपीएमयू) में स्मार्ट क्लास के नाम पर लाखों रूपये खर्च किये गए, लेकिन इन स्मार्ट क्लासेज का स्मार्टनेस निखरने का नाम नहीं ले रहा. विश्वविद्यालय में एक र्स्माट क्लास तैयार करने में एक लाख रूपये खर्च किए गये. इसका उदेश्य था कि छात्रों को स्मार्ट तरीके से पढ़ाई की जायेगी. इसके तहत विश्वविद्यालय के सभी 16 विभागों में स्मार्ट क्लास बनाये गये, लेकिन स्मार्ट क्लास तो बन गए, पर विश्वविद्यालय के पास इनमें पढ़ाने लायक स्मार्ट शिक्षक नहीं हैं, जिसकी वजह से ये स्मार्ट क्लास कबाड़ बन रहे हैं.

इसे भी पढ़ें-736 दुकानदारों पर है आरआरडीए की करोड़ों की राशि बकाया, नहीं देने पर दुकानें होंगी सील

शिक्षकों को नहीं दिया गया प्रशिक्षण

स्मार्ट क्लास एसपीएमयू के सभी विभागों मेंतो बनाया गया लेकिन इन क्लासों में छात्रों के पढ़ाने का तरिका शिक्षकों को नहीं बताया गया. स्मार्ट क्लास का प्रशिक्षण न मिलने से शिक्षक आज भी ब्लैक बोर्ड और चौक से बच्चों को पढ़ा रहे हैं. विश्वविद्यालय के शिक्षक प्रो राजेश कुमार ने कहा कि स्मार्ट क्लास तो बना, लेकिन इसके माध्यम से बच्चों को कैसे पढ़ाया जाये, उसके विषय में कोई जानकारी नहीं दी गयी. इस वजह से पुराने तरीकों से ही बच्चों को पढ़ाया जा रहा है.

आज भी ब्लैकबोर्ड और चॉक से पढ़ा रहे शिक्षक
आज भी ब्लैकबोर्ड और चॉक से पढ़ा रहे शिक्षक

इसे भी पढ़ें-लातेहारः लाभुक को पता नहीं, दलालों ने पीएम आवास योजना के राशि की निकासी कर ली

palamu_12

क्या कहते हैं विवि के सीसीडीसी ?

एसपीएमयू के सीसीडीसी मो अयूब खान ने कहा कि विवि के सभी विभागों को स्मार्ट क्लास से लैस किया गया. एक स्मार्ट क्लास तैयार करने में लगभग एक लाख की राशि विवि ने खर्च किया है. शिक्षक तकनीक की जानकारी के अभाव में या प्रशिक्षण के अभाव में इसका इस्तेमाल नहीं कर पा रहे हैं.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

%d bloggers like this: