JharkhandRanchi

उन्नति से राज्य में 818 मनरेगा मजदूरों का हुआ कौशल विकास

  • स्थायी आय के साधन से जोड़ा जायेगा
  • ग्रामीण विकास विभाग ने सभी जिलों को लक्ष्य प्राप्ति का दिया निर्देश

Ranchi: राज्य में वर्तमान वित्तीय वर्ष में मनरेगा से 1111 मनरेगा श्रमिकों का कौशल उन्नयन किया जा रहा है. केन्द्रीय ग्रामीण विकास मंत्रालय की उन्नति परियोजना के तहत अधिकतम 45 वर्ष तक की उम्र के मनरेगा श्रमिकों का कौशल विकास किया जाएगा, जिससे वे अपनी आय का स्थायी साधन प्राप्त कर सकें.

इस परियोजना से झारखंड में अब तक 818 मनरेगा श्रमिकों के कौशल उन्नयन का प्रशिक्षण पूर्ण हो चुका है. ग्रामीण विकास विभाग ने शेष चयनित मनरेगा श्रमिकों को उन्नति परियोजना के अंतर्गत समयबद्ध प्रशिक्षण पूर्ण कराने का निर्देश सभी जिला और पंचायतों के अधिकारियों को दिया है.

advt

इसे भी पढ़ें:बगैर आदेश के दखल दिलाने जमीन पर पहुंची पुलिस! DGP के पास पहुंची शिकायत

100 दिनों के काम करने वाले को उन्नति से जोड़ा जायेगा

ग्रामीण विकास विभाग ने वर्ष 2018-19 में मनरेगा के अंतर्गत 100 दिनों का कार्य पूर्ण कर चुके परिवारों के लक्षित श्रमिकों के कौशल उन्नयन का लक्ष्य प्राप्त करने के लिए दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल योजना एवं ग्रामीण स्वरोजगार प्रशिक्षण संस्थान में से प्रशिक्षण देने का निर्णय लिया है.

इसके अनुसार जिले की परिस्थिति के अनुरूप प्रशिक्षण संस्थान का चयन करने को कहा है. राज्य स्तर से जारी निर्देश में कहा है कि जिला इन दोनों संस्थानों में किसी भी संस्थान/संस्थानों के माध्यम से आबंटित लक्ष्य को पूर्ण कर सकते हैं.

इसे भी पढ़ें:15वें वित्त आयोग के तहत रांची जिला में होगी नियुक्ति, हाइकोर्ट ने केस डिसमिस किया

इसमें किसी भी प्रकार की कोई बाध्यता नहीं है. जिले के द्वारा प्रशिक्षण पूर्ण करने के बाद जरूरत पड़ने पर अतिरिक्त लक्ष्य भी दिया जायेगा.

ग्रामीण विकास सचिव डॉ मनीष रंजन ने कहा कि उन्नति परियोजना को राज्य में प्रतिबद्धता के साथ संचालित करना सरकार की प्राथमिकता है. उन्नति परियोजना के तहत मनरेगा श्रमिकों का कौशल विकास कर उन्हें रोजगार से जोड़ने का कार्य किया जाएगा.

इस अवसर पर मनरेगा आयुक्त राजेश्वरी बी ने कहा कि संक्रमण काल के बाद लाखों की संख्या में प्रवासी श्रमिक अपने घर लौटे हैं. इन्हें उन्नति से जोड़ कर प्रशिक्षित किया जायेगा.

इसे भी पढ़ें:तेंदुआ के जबड़े से बेटे को निकाल लाई ये हिम्मती मां, 8 वर्षीय बच्चे को उठा ले गया था जंगल

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: