ChaibasaCrime NewsJamshedpurJharkhandKhuntiRanchi

Khunti breaking : 28 माह बाद बरामद किया गया नक्सली हमले में मारे गए कराईकेला के युवक का कंकाल, जाने पूरा मामला

CHAKRADHARPUR/KHUNTI : खूंटी जिले के अड़की थाना क्षेत्र के ईचाहातू में साल 2020 में आयोजित हुए एक हॉकी टूर्नामेंट में शिरकत कर वापस लौट रहे पश्चिमी सिंहभूम के कराईकेला थाना क्षेत्र के उदय नारायणपुर गांव निवासी 23 वर्षीय मिथलेश सोय उर्फ जागेन सोय की नक्सलियों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी. इस घटना के 28 माह बाद मिथलेश का कंकाल ईचाहातू के जंगलों से बरामद किया गया है. दरअसल, 15 जुलाई 2020 को खूंटी जिले के अड़की थाना क्षेत्र अंतर्गत ईचाहातू गांव में एक हॉकी टूर्नामेंट का आयोजन किया गया था. निकोलस इस हॉकी टूर्नामेंट में शिरकत कर वापस लौट रहा था तभी रास्ते में ही नक्सलियों ने गोली मारकर उसकी हत्या कर दी थी और उसके परिजनों को धमकी दी थी कि वो पुलिस को इसकी जानकारी ना दे.

नक्सलियों की धमकी से डरकर परिजनों ने शव को जंगल में ही दफनाकर वापस आ गए. हालांकि, घटना की सूचना पुलिस को मिल चुकी थी पर जब तक पुलिस मौके पर पहुंची तब तक वहां लाश मौजूद नही थी. पुलिस ने मौके से नक्सली पर्चे ही बरामद किए थे. अनुसंधान के क्रम में पुलिस 28 महीने बाद मृतक की पहचान कर पाई और मिथलेश के परिजनों को ढूंढ निकाला. परिजनों से पूछताछ करने पर उन्होंने पूरी जानकारी दी. मामले को लेकर बंदवान बीडीओ गिरिजानंद किस्कू को दंडाधिकारी नियुक्त किया गया. दंडाधिकारी परिजनों को उक्त स्थान पर लेकर पहुंचे जहां पर परिजनों ने मिथलेश को दफनाया था. इस दौरान कराईकेला और अड़की पुलिस के अलावा सीआरपीएफ के जवान भी मौजूद थे. निकोलस के कंकाल को कब्र से बाहर निकाला गया और जांच के लिए फोरेंसिक लैब भेज दिया गया.

Related Articles

Back to top button