Main SliderSports

शारजाह में हो रही छक्कों की बरसात, दो मैचों में 62 छक्के लगे

Sharjah : एक समय था जब शारजाह का स्टेडियम क्रिकेटप्रेमियों के लिए एक अलग आकर्षण का केंद्र होता था. खासकर 80 और 90 के दशक में भारत और पाकिस्तान के बीच शारजाह में खेले जानेवाले मैच का हर क्रिकेट प्रेमियों को बेस्रब्री से इंतजार होता था. बाद में मैच फिक्सिंग और अन्य कारणों से भारत ने शारजाह में खेलना बंद कर दिया था. अब एक बार फिर से शारजाह का मैदान गुलजार है और खूब चर्चा में है. इस बार आइपीएल और रनों की बरसात की वजह से.

इसे भी पढ़ें :बिहार चुनाव : क्या तेजप्रताप के खिलाफ पत्नी ऐश्वर्या उतरेंगी चुनावी मैदान में !

बल्लेबाजों को रास आ रहा है शारजाह का मैदान

बात करें आइपीएल की तो टूर्नामेंट के 13 वें सीजन की धमाकेदार शुरूआत हुई है. शुरुआती चरण के जितने भी मैच खेले गये हैं उनमें खूब रन बरस रहे हैं. खासकर शारजाह का मैदान तो बल्लेबाजों को खूब रास आ रहा है. छोटा मैदान और बल्लेबाजी के लिए आसान होने की वजह से यहां चौके-छक्कों की बरसात हो रही है. रविवार को खेले गए मैच में शारजाह में 29 छक्के लगे. दोनों पारियों में 200 से अधिक रन बने.

इससे पहले खेले गये मैच में भी रनों का अंबार लगा. राजस्थान रॉयल्स की टीम ने 216 रन बनाये वहीं चेन्नई की टीम ने भी 200 रन बनाए थे. यहां खेले गये एक अन्य मुकाबले में पंजाब की टीम ने 223 रन बनाये इसके जवाब में राजस्थान की टीम ने 226 रन बनाए. दो मुकाबलों में ही शारजाह में अब तक 800 से अधिक रन बन गये हैं.

इसे भी पढ़ें :Corona Update: देश में संक्रमण के मामले 60 लाख के पार, अबतक 95 हजार से ज्यादा मौतें

दो मैचों मे 62 छक्के लगे

शारजाह में दो मुकाबलों में अबतक 62 छक्के लगे हैं. जबकि बाकी के दो स्टेडियम अबू धाबी और दुबई में खेले गए सात मुकाबलों में 65 छक्के लगे हैं. टूर्नामेंट में अब तक 127 छक्के लग चुके हैं. राजस्थान की टीम के लिए यह मैदान काफी अच्छा साबित हुआ है. राजस्थान ने अपने दोनों मुकाबले शारजाह मे ही खेले हैं. उसने चेन्नई के खिलाफ पहले मुकाबले में 17 तो पंजाब के खिलाफ दूसरे मुकाबले में 18 छक्के लगाए. राजस्थान की टीम ने अकेले ही इस मैदान पर 35 छक्के लगाए हैं.

इसे भी पढ़ें :राज्यसभा के उपसभापति हरिवंश ने 20 सितंबर की घटना पर स्पष्टीकरण जारी किया 

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: