GiridihJharkhand

गिरिडीह में छह माह की गर्भवती को पति और ससुरालवालों ने गला दबा कर मार डाला, एक गिरफ्तार

♦साल 2019 में हुई थी शादी, शादी के बाद से ही दहेज के लिए किया जा रहा था प्रताड़ित

Giridih : गिरिडीह के गांवा थाना क्षेत्र के पिहरा गांव में 20 वर्षीय गर्भवती दुलारी देवी की हत्या कर आरोपी पति समेत ससुरालवाले फरार हो गये. हालांकि एक आरोपी महेन्द्र दास को पुलिस ने गिरफ्तार किया है. पति गोपाल दास समेत अन्य आरोपी भागने में सफल रहे. दुलारी देवी छह माह की गर्भवती बतायी जा रही है.

इसे भी पढ़ें – 24 घंटे में बतायें- लालू के पास कैसे पहुंचा फोन

दहेज हत्या का आरोप लगाया मायकेवालों ने

बुधवार देर रात को हुई घटना की जानकारी मृतिका के मायकेवालों को आरोपी पति गोपाल दास ने यह कहते हुए दी कि उनकी बेटी नाटक कर रही है. दामाद से जानकारी मिलने के बाद मायकेवाले गुरुवार की सुबह उसके ससुराल पहुंचे, तो ससुराल में दुलारी देवी का शव पड़ा हुआ था. मायकेवालों ने दहेज नहीं मिलने पर दुलारी की हत्या करने का आरोप पति गोपाल दास समेत उसके ससुरालवालों पर लगाया है.

इधर परिजनों का कहना है कि साल 2019 के दिसंबर माह में दुलारी देवी की शादी गांवा के पिहरा गांव निवासी गोपाल दास से हुई थी. शादी के बाद से दुलारी देवी को दहेज के लिए प्रताड़ित किया जा रहा था. मामले को कई बार पंचायत में सुलझाने का प्रयास किया गया. इस बीच गोपाल दास जब लॉकडाउन होने के बाद दिल्ली से वापस अपने घर पिहरा लौटा, तो दुलारी को दोबारा प्रताड़ित किया जाने लगा. इसी दौरान बुधवार की देर रात उसकी हत्या कर पति समेत परिवार के अन्य सदस्य फरार हो गये.

इधर घटना की जानकारी मिलने के बाद गांवा थाना पुलिस भी घटनास्थल पहुंची. लेकिन महेन्द्र दास को छोड़ कर मृतिका के पति, सास और देवर फरार हो चुके थे. पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया है.

इसे भी पढ़ें – प्रधानमंत्री मोदी ने संविधान दिवस पर वन नेशन, वन इलेक्शन को भारत की जरूरत बताया…

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: