न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

लखनऊ गेस्ट कांड पर बोले  शिवपाल,  मायावती ने यौन शोषण का आरोप लगाया था. नार्को टेस्ट हो, मेरा भी, बहनजी का भी

अब 1995 के लखनऊ गेस्ट हाउस कांड पर अखिलेश के चाचा शिवपाल सिंह यादव की प्रतिक्रिया से मामला फिर गर्मा गया है.

55

Lucknow : अखिलेश के चाचा शिवपाल सिंह यादव ने लखनऊ गेस्ट हाउस कांड फिर से चर्चा में ला दिया है. बता दें कि यूपी में भाजपा को मात देने के लिए बसपा-सपा का गठबंधन हो गया है. दोनों दल राज्य की 38-38 सीटों पर चुनाव लड़ेंगे. पिछले दिनों लखनऊ में साझा प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान मायावती ने यह कहकर गठबंधन का ऐलान किया था कि उन्होंने देशहित में लखनऊ गेस्ट कांड का मुद्दा किनारे रख दिया है.  अब 1995 के लखनऊ गेस्ट हाउस कांड पर अखिलेश के चाचा शिवपाल सिंह यादव की प्रतिक्रिया से मामला फिर गर्मा गया है. प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) के प्रमुख शिवपाल सिंह यादव ने मायावती पर लखनऊ गेस्ट कांड को लेकर निशाना साधा है.

लखनऊ गेस्ट हाउस कांड पर शिवपाल सिंह यादव ने कहा कि बहन जी ने मुझ पर यौन शोषण का आरोप लगाया था. मैंने कहा था कि मैं जांच के लिए तैयार हूं, मैं नार्को टेस्ट के लिए तैयार हूं.  शर्त यह है कि नार्को टेस्ट बहन जी का भी होना चाहिए, मेरा भी होना चाहिए.

चंदौली के सकलडीहा में जनसभा में शिवपाल यादव ने सपा-बसपा पर हमला किया

बता दें कि चंदौली के सकलडीहा में बुधवार को जनसभा को संबोधित करते हुए शिवपाल सिंह यादव ने यह बात कही. दरअसल, मायावती और अखिलेश यादव इस बार लोकसभा चुनाव में एक साथ चुनावी मैदान में उतरेंगे और भाजपा को हराने की कोशिश करेंगे. इससे पूर्व समाजवादी पार्टी से अलग होकर नयी पार्टी बनाने वाले शिवपाल सिंह यादव ने सपा-बसपा के गठबंधन पर हमला करते हुए रविवार को कहा था कि सीबीआई के डर से यह गठजोड़ तैयार हुआ है. शिवपाल ने कहा कि वर्ष 1993 में जब सपा-बसपा का गठबंधन हुआ था, उस वक्त दोनों ही पार्टियों पर कोई आरोप नहीं था और ना ही सीबीआई का कोई डर था.

Related Posts

झारखंड कैडर के आईएएस अधिकारी केंद्रीय गृह सचिव राजीव गौबा अब नये कैबिनेट सचिव होंगे

राजीव गौबा शुरू में कैबिनेट सचिवालय में विशेष कार्याधिकारी के तौर पर काम संभालेंगे

SMILE

उन्होंने कहा, आज तो सीबीआई का ही डर है. इस डर की वजह से यह गठबंधन हो रहा है. यह गठबंधन सफल नहीं होगा. इस क्रम में शिवपाल यादव ने किसी भी धर्मनिरपेक्ष दल से गठबंधन की इच्छा जताते हुए कहा अभी हमारी बात तो नहीं हुई है लेकिन जितने भी धर्मनिरपेक्ष दल हैं, उनमें कांग्रेस भी है. अगर कांग्रेस हमसे संपर्क करेगी तो मैं उससे गठबंधन के लिए बिल्कुल तैयार हूं.

इसे भी पढ़ेंः  जेडीयू बीजेपी का एडवांस वर्जनः  तेजस्वी

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: