न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

सिंधू विश्व चैम्पियनशिप में स्वर्ण जीतने वाली पहली भारतीय बनीं, नोजोमी ओकुहारा को फाइनल में दी शिकस्त

1,896

Basel, Switzerland:  पी वी सिंधू रविवार को यहां बैडमिंटन विश्व चैंपियनशिप के एकतरफा फाइनल में जापान की प्रतिद्वंद्वी नोजोमी ओकुहारा को हराकर स्वर्ण पदक जीतने वाली पहली भारतीय बन गयीं.
फाइनल मुकाबले में रियो ओलंपिक की रजत पदक विजेता भारतीय खिलाड़ी ने 38 मिनट में 21-7 21-7 से आसान जीत दर्ज की.
इसे भी पढ़ेंः रांची नगर निगम सफाई के लिए फिर लेगा आउटसोर्सिंग कंपनी का सहारा, पार्षद बोले – चरमरायेगी सफाई व्यवस्था
सिंधू ने इसके साथ ही दो साल पहले इस टूर्नामेंट के फाइनल में ओकुहारा से मिली हार का बदला भी ले लिया.
बता दें कि हैदराबादी खिलाड़ी ने 40 मिनट तक चले सेमीफाइनल में चीन की दुनिया की तीसरे नंबर की खिलाड़ी चेन यु फेई को 21-7 21-14 से शिकस्त दी थी.

चौबीस साल की भारतीय खिलाड़ी अब रविवार को थाईलैंड की 2013 की विश्व चैम्पियन रतचानोक इंतानोन और जापान की 2017 की विजेता नोजोमी ओकुहारा के बीच होने वाले मुकाबले की विजेता से भिड़ीं थीं.
ओलंपिक रजत पदकधारी सिंधू का मैच से पहले चेन के खिलाफ रिकार्ड 5-3 का था.

इसे भी पढ़ेंः मनमानी : बिना क्लिनिकल एस्टेब्लिशमेंट एक्ट में रजिस्ट्रेशन के चल रहा था बोकारो जनरल अस्पताल

उन्होंने शुरू में तेजी से बढ़त बनायी. सिंधू ने तेज तर्रार शाट से कमजोर रिटर्न का फायदा उठाया और अपनी प्रतिद्वंद्वी को पस्त किया था.

विश्व चैम्पियनशिप में सिंधू का यह पांचवां पदक है. पदकों की संख्या के मामले में सिंधू ने चीन की पूर्व ओलंपिक चैम्पियन झांग निंग की रिकार्ड की बराबरी की. सिंधू ने दो कांस्य पदक के साथ टूर्नामेंट के पिछले दो सत्र में दो रजत पदक भी हासिल किया है.

इसे भी पढ़ेंः जम्मू-कश्मीर : राज्य सचिवालय भवन से जम्मू-कश्मीर का झंडा हटा,  सिर्फ तिरंगा लहराया

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
क्या आपको लगता है हम स्वतंत्र और निष्पक्ष पत्रकारिता कर रहे हैं. अगर हां, तो इसे बचाने के लिए हमें आर्थिक मदद करें.
आप अखबारों को हर दिन 5 रूपये देते हैं. टीवी न्यूज के पैसे देते हैं. हमें हर दिन 1 रूपये और महीने में 30 रूपये देकर हमारी मदद करें.
मदद करने के लिए यहां क्लिक करें.-

you're currently offline

%d bloggers like this: