न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

सिमडेगा : बंदरचुआं के ग्रामीणों ने किया पौधरोपण

362

Simdega :कोलेबिरा प्रखंड के बंदरचुआं में पर्यावरण संरक्षण के उद्देश्य से ग्रामीणों ने लगभग सात सौ पौधे लगाये. ग्रामीणों ने वन अधिकार अधिनियम 2006 में दिये गये अधिकार के तहत सामुदायिक दावा किये गये जंगल के निकट वृक्षा रोपण किया. इस अवसर कांग्रेस पार्टी आदिवासी प्रकोष्ठ के जिला अध्यक्ष विक्सल कोंगाड़ी, समर्पण सुरीन, तेलेस्फोर तोपनो, अमित डांग मुख्य रूप से उपस्थित थे.

इसे भी पढ़ें- राजधानी में सेक्स रैकेट का भंडाफोड़, ओयो रूम से मिलती थी लड़की

सरकार अदिवासियों के आजीविका पर नहीं दे रही है ध्‍यान

वृक्षा रोपण के बाद सभा का आयोजन किया गया. सभा को संबोधित करते हुए विक्सल कोंगाड़ी ने कहा कि सरकार द्वारा वन संरक्षण पर एवं आदिवासियों के वन आधारित आजीविका पर कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा है. सरकार द्वारा ग्रामसभा की उपेक्षा की जा रही है. उन्होंने कहा कि वनों के आस पास रहने वाले आदिवासी एवं परंपरागत वनवासी जंगल के अभिन्न अंग हैं. जिन्हें जंगलों के अधिकार से वंचित नहीं किया जा सकता है. किंतु भाजपा सरकार द्वारा आदिवासियों को जल, जंगल, जमीन से वंचित करने की साजिश रची जा रही है. इस मौके पर समर्पण सुरीन, तेलेस्फोर तोपनो, अमित डांग आदि ने अपने विचार व्यक्त करते हुए वन अधिकार कानून की विस्तार पूर्वक जानकारी दी.

इसे भी पढ़ें-कोचांग गैंगरेप के मास्टरमाइंड जॉन जुनास तिडू व बलराम सामद गिरफ्तार

ये लोग थे मौजूद

इस अवसर पर मुख्य रूप से जुनूल लुगून, रतन बागे, जेम्स समद, रेयडन डांग, उदय सुरीन, सिसिलया होरो, ललित हेमरोम, विक्टोर डुंगडुंग, नीलिमा टेटे, इलियाह डुंगडुंग,नैमन हेमरोम, अमित लुगून,मुलियानी डांग,ग्रेस्ती हेमरोम, नुएल होरो के अलावा काफी संख्या में ग्रामीण उपस्थित थे.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

o1
You might also like