Crime NewsSimdega

सिमडेगा: ज्वेलरी छिपाने के मामले में बांसजोर ओपी प्रभारी सहित दो को गिरफ्तार कर भेजा गया जेल

Ranchi: सिमडेगा जिलान्तर्गत बांसजोर ओपी क्षेत्र से चांदी के जेवरात एवं एक चांदी की ईंट/बार (कुल वजन-38.830 किलोग्राम) की बरामदगी से सम्बंधित मामले में तथ्यान्वेषण निष्पक्ष तत्परतापूर्ण पुलिसिया जांच एवं सघन अनुसंधान हेतु पुलिस अधीक्षक, सिमडेगा द्वारा अनुमण्डल पुलिस पदाधिकारी, सिमडेगा के नेतृत्व में चार पुलिस निरीक्षक कोटि के पुलिस पदाधिकारियों सहित 10-सदस्यीय एसआईटी का गठन किया गया था.

एसआईटी टीम ने एक नये तथ्य अर्थात् बांसजोर ओपी के कुछ पुलिसकर्मी द्वारा बरामद जेवरात की चोरी कर उसे छुपाने तथा क्रिमिनल ब्रीच ऑफ ट्रस्ट का मामला उजागर किया है. जिसके तथ्यान्वेषन पर पुलिस अधीक्षक, सिमडेगा के स्तर से बांसजोर ओपी के पुलिस पदाधिकारियों एवं कर्मी के विरूद्ध सख़्त कानूनी एवं अनुशासनिक कार्रवाई की गयी है.

advt

इसे भी पढ़ें : हल्दीपोखर में 13 पुड़िया ब्राउन शुगर के साथ एक गिरफ्तार

ओपी प्रभारी, बांसजोर ओपी, जिन्हें प्रतिवेदित काण्ड के अनुसंधान में पायी गयी लापरवाही एवं संदिग्ध आचरण के मद्देनजर पुलिस अधीक्षक, सिमडेगा के द्वारा पूर्व में ही निलम्बित किया जा चुका था, के साथ-साथ बांसजोर ओपी में प्रतिनियुक्त एक अन्य निलम्बित किए गये पुलिस अवर निरीक्षक कोटि के पदाधिकारी तथा निलम्बित किये गये थाना चालक की उल्लिखित मामले में बरामद जेवरात की पूर्ण जानकारी में हेरा-फेरी किए जाने तथा इन तीनों की शिनाख़्त पर अतिरिक्त कुल-14.776 किलोग्राम चांदी के जेवरात बरामद किये जाने के आरोप में तीनों को ही गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है.

उक्त तीनों के अतिरिक्त बांसजोर ओपी में प्रतिनियुक्त/पदस्थापित दो अन्य पुलिस पदाधिकारियों तथा एक साक्षर आरक्षी को भी पुलिस अधीक्षक, सिमडेगा ने निलम्बित कर दिया है, जिनकी इस मामले में संलिप्तता के बिन्दु पर पुलिस अधीक्षक, सिमडेगा द्वारा गठित एसआईटी का गहन अनुसंधान एवं जाँच अब भी जारी है.

इसे भी पढ़ें : फिल्म निर्माण सिर्फ मनोरंजन का साधन नहीं बल्कि भारतीय संस्कृति का वाहक है : डॉ करूणेश

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: