न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

सिमडेगा: 7 जुलाई से लापता युवती का मिला शव, प्रेम-प्रसंग में हत्या की आशंका

अपहरण और हत्या का केस दर्ज

957

Simdega: जिले के घाघरा निवासी फुलेश्वरी का शव फुलवा टांगर पहाड़ से बरामद किया गया. बताया जा रहा है कि प्रेम-प्रसंग में ये हत्या कर शव को छिपाने के लिए पहाड़ पर फेंका गया है. दरअसल, घाघरा के 28 वर्षीय फुलेश्वरी का सिमडेगा थाना के फुलवा टांगर निवासी राजू रावत से प्रेम-प्रसंग था, और दोनों की शादी 10 जुलाई को होनेवाली थी. लेकिन सात जुलाई को राजू फुलेश्वरी को जबरन अपने साथ सिमडेगा ले आया था, जिसके बाद से उसका कोई अता-पता नहीं था. युवती के परिवारवालों ने हत्या की प्राथमिकी दर्ज करवायी है.

mi banner add

जानें आखिर क्यों काल के गाल में समा गया एक परिवार

7 जुलाई को राजू के साथ निकली थी फुलेश्वरी

दरअसल, राजू और फुलेश्वरी के रिश्ते की जानकारी जब परिजनों को हुई, तो फुलेश्वरी के परिवार ने शादी के लिए दवाब बनाया. जिसके बाद राजू रावत का परिवार शादी के लिए राजी हो गया. 10 जुलाई को फुलेश्वरी एवं राजू रावत की शादी होनी थी. वही राजू रावत 7 जुलाई को घाघरा जाकर फुलेश्वरी कुमारी को जबरन अपने साथ लेकर सिमडेगा आ गया. इसके बाद से फुलेश्वरी अपने परिजनों से बात नहीं कर पाई. परिजनों द्वारा फुलेश्वरी की काफी खोजबीन गई, लेकिन इसके बाद भी फुलेश्वरी का कुछ पता नहीं लगा. वही बीती शाम को कुछ चरवाहे फुलवाटांगर पहाड़ी जानवर चरा रहे थे. इसी बीच पहाड़ी से आ रही दुर्गंध के बाद चरवाहों ने पहाड़ी पर एक शव को देखा. जिसकी हालत काफी खराब थी.

हत्या की प्राथमिकी दर्ज

घटना की सूचना फुलवाटांगर ग्रामीणों ने फुलेश्वरी के पिता बालकृष्ण भुइयां को दी . सूचना पर बालकृष्ण भुइयां व उनके परिजन सोमवार को फुलवाटांगर पहाड़ी पहुंचे. खोजबीन के बाद पहाड़ी से एक शव बरामद किया गया. पूरी तरह से सड़ चुकी लाश पर मौजूद कपड़े के आधार पर फुलेश्वरी के परिजनों ने उनकी पहचान की. घटना की जानकारी मिलने के बाद सिमडेगा थाना पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लिया. पुलिस ने फिलहाल राजू रावत से पूछताछ कर रही है. इधर मृतका फुलेश्वरी कुमारी के भाई विनय भुइयां ने सिमडेगा थाना में अपहरण एवं हत्या से संबंधित एक प्राथमिकी राजू रावत एवं उनके माता-पिता के खिलाफ दर्ज कराई है. इधर, पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया गया.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: