Corona_UpdatesJharkhandRanchiTOP SLIDER

Unlock-2 में बड़ी छूट मिलने के संकेत, जानें क्या कह रही है सरकार

Ranchi : झारखंड अब अनलॉक-2 की ओर है. 10 जून से कई और रियायतों के मिलने की उम्मीद है. झारखंड प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष सह राज्य के वित्त तथा खाद्य आपूर्ति मंत्री डॉ रामेश्वर उरांव ने इसके संकेत दिये हैं.

मंगलवार को उन्होंने कहा कि जीवन और जीविका बचाये रखने की चुनौती सरकार के सामने रही. मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के नेतृत्व में कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर पर काफी हद तक काबू पा लिया गया है पर अभी खतरा टला नहीं है.

विशेषज्ञों की ओर से कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर की भी चेतावनी दी गयी है. ऐसे में अभी सतर्कता और एहतियात बरतने की जरूरत है. 10 जून की सुबह छह बजे अनलॉक-1 की मियाद खत्म हो रही है.

Catalyst IAS
SIP abacus

इस दौरान 22 अप्रैल से लागू स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह के दौरान आवश्यक वस्तुओं को छोड़ कर सभी दुकानें बंद रहीं. लेकिन खनन और निर्माण कार्य जारी रहने के कारण पिछले वर्ष लॉकडाउन की तरह ज्यादा नुकसान तो नहीं उठाना पड़ा पर कई पाबंदियां लागू रहीं. इसके कारण राजस्व संग्रहण के काम में बाधा आयी.

MDLM
Sanjeevani

ऐसी स्थिति में अब अनलॉक-2 में दोपहर दो बजे की जगह शाम 6 बजे या रात्रि आठ बजे तक की छूट मिलनी चाहिए. इसके अलावा अंतर जिला ट्रांसपोर्टिंग और यात्री बस सेवा को भी अनुमति मिलनी चाहिए परंतु राज्य के बाहर से आनेवाले वाहनों की सख्ती से जांच अभी जरूरी है.

इसे भी पढ़ें :झारखंडः कोरोना की दूसरी लहर में 60 से अधिक उम्रवालों की ज्यादा हुई मौत

राजनीतिक और धार्मिक आयोजनों पर रोक

रामेश्वर उरांव के मुताबिक अभी की परिस्थिति में थोड़ी सावधानी बनाये रखनी चाहिए. अभी सभी तरह के धार्मिक और राजनीतिक आयोजनों पर भी रोक जारी रहनी चाहिए. शादी विवाह भी सीमित संख्या में ही करने की इजाजत मिलनी चाहिए.

इसे भी पढ़ें :जेएमएम ने केंद्र के फैसले को बताया वाजिब, कहा 21 जून तक वैक्सीनेशन अभियान का कैलेंडर जारी करे केंद्र सरकार

अनलॉक-2 में कई छूट जरूरी

प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता आलोक कुमार दुबे ने कहा कि कोरोना संक्रमणकाल में पहली बार प्रदेश अध्यक्ष डॉ रामेश्वर उरांव ने पहली बार जीवन के साथ जीविका को बचाने की बात कही. आज पूरे देश भर में इसे स्वीकार किया गया है.

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन और मंत्री रामेश्वर उरांव के नेतृत्व में चुनौतियों को बेहतरीन तरीके से निपटने में कामयाबी मिली है. आने वाले समय में स्थिति पूरी तरह से काबू में होगी.

राज्य में कोरोना संक्रमण की रफ्तार धीमी हुई है परंतु अभी अचानक से पूरी छूट देने के बजाय जनजीवन को धीरे-धीरे सामान्य करने के लिए अनलॉक-2 में कई छूट जरूरी है.

इसे भी पढ़ें :  TAC गठन पर भाजपा और झामुमो में रार, एक दूसरे पर लगा रहे दिग्भ्रमित करने का आरोप

Related Articles

Back to top button