National

टिकट कटने के नवजोत कौर के दावे पर सिद्धू ने कहा- ‘मेरी पत्नी कभी झूठ नहीं बोलेगी’

Chandigarh: क्रिकेटर से नेता बने नवजोत सिंह सिद्धू और मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह के बीच अंदर ही अंदर सुलग रहा गुस्सा कई मौकों पर सामने आया है.

कुछ ऐसा ही वाकया गुरुवार को भी हुआ. जहां टिकट कटने से नाराज नवजोत कौर सिद्धू की उनके पति और पंजाब सरकार में मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने वकालत की.

इसे भी पढ़ेंःबाल-बाल बचे RSS प्रमुख मोहन भागवत, गाय को बचाने के दौरान पलटी गाड़ी

Catalyst IAS
ram janam hospital

नवजोत सिंह सिद्धू ने अपनी पत्नी नवजोत कौर सिद्धू के कुछ दिन पहले दिये गये बयान का गुरुवार को यह कहते हुए समर्थन किया कि वह ‘कभी झूठ नहीं बोलेंगी.’

The Royal’s
Sanjeevani

गौरतलब है कि नवजोत कौर सिद्धू ने पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह एवं कांग्रेस की वरिष्ठ नेता आशा कुमारी पर अमृतसर से लोकसभा टिकट नहीं दिए जाने का आरोप लगा कर विवाद खड़ा कर दिया था.

‘मेरी पत्नी कभी झूठ नहीं बोलेगी’

पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू से जब उनकी पत्नी के आरोपों के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, “मेरी पत्नी नैतिक रूप से इतनी मजबूत हैं कि वह कभी झूठ नहीं बोलेंगी. यही मेरा जवाब है.”

इसे भी पढ़ेंःआम चुनाव 2019 के लिए आज प्रचार का आखिरी दिन, 19 मई को 8 राज्यों की 59 सीटों पर होगी वोटिंग

हालांकि मुख्यमंत्री ने पटियाला में इन आरोपों को खारिज करते हुए कहा कि उन्हें अमृतसर या बठिंडा सीट से कांग्रेस की टिकट की पेशकश की गई. लेकिन उन्होंने इनकार कर दिया था.

टिकट देने का फैसला आला कमान का- कैप्टन

साथ ही सिंह ने कहा कि चंडीगढ़ लोकसभा सीट से कौर को टिकट नहीं मिलने में उनकी कोई भूमिका नहीं थी. क्योंकि टिकट बंटवारे का काम दिल्ली में कांग्रेस के आला कमान ने किया था और उन्होंने पवन कुमार बंसल को चुना.

कांग्रेस नेता एवं पूर्व विधायक नवजोत कौर सिद्धू ने 14 मई को आरोप लगाया था कि अमरिंदर सिंह एवं पार्टी के पंजाब मामलों की प्रभारी आशा कुमारी ने यह सुनिश्चित किया कि उन्हें अमृतसर संसदीय क्षेत्र से टिकट न मिले.

चंडीगढ़ लोकसभा सीट से भी टिकट चाह रहीं कौर ने आरोप लगाया कि मुख्यमंत्री ने दावा किया है वह अपने दम पर कांग्रेस को राज्य की 13 संसदीय सीटें दिला पाने में सक्षम हैं.

इसे भी पढ़ेंःसंदेह किया जा रहा है कि चुनाव आयोग के तरीकों से राजनीतिक हिंसा पर अंकुश संभव नहीं

उन्होंने अमृतसर में संवाददाताओं से कहा था, “कैप्टन साहब और आशा कुमारी सोचते हैं कि मैडम सिद्धू (नवजोत कौर) सांसद का टिकट पाने के योग्य नहीं हैं.

अमृतसर से मुझे टिकट इस आधार पर नहीं दिया गया कि अमृतसर में दशहरा के मौके पर हुए ट्रेन हादसे (पिछले साल अक्टूबर में जिसमें 60 लोग मारे गए थे) की वजह से मैं जीत नहीं पाऊंगी. कैप्टन एवं आशा कुमारी ने कहा था कि मैडम सिद्धू जीत नहीं सकती हैं.”

इसे भी पढ़ेंःआयुष्मान योजना का हाल : इंप्लांट के इंतजार में मरीज, 2 महीने तक नहीं हो पा रहा ऑपरेशन

Related Articles

Back to top button