न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

सिद्धू ने अपनी ही पार्टी के समर्थक को दिया धक्का, वीडियो हुआ वायरल

वीडियो के वायरल होने के बाद कांग्रेस पार्टी को देनी पड़ी सफाई

1,155

Dewas: कांग्रेस नेता और पंजाब सरकार में मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू एक बार फिर चर्चा में हैं. मध्य प्रदेश के देवास में चुनावी प्रचार के दौरान सिद्धू पर आरोप है कि उन्होंने अपनी ही पार्टी के एक समर्थक को गाड़ी से धक्का दे दिया. हालांकि, इस मामले का वीडियो वायरल होने के बाद कांग्रेस की ओऱ से सफाई भी दी गयी.

इसे भी पढ़ेंःकमल हासन का विवादित बयानः कहा- हिन्दू था भारत का पहला आतंकवादी, नाम था नाथूराम गोडसे

Aqua Spa Salon 5/02/2020

क्या है मामला

मध्यप्रदेश के देवास में कांग्रेस के स्टार प्रचारक के रूप में सिद्धू पार्टी के उम्मीदवार प्रह्लाद सिंह कृपाणिया के लिए प्रचार करने आये थे.

पहले जहां चुनाव प्रचार के दौरान सिद्धू की सभा में खूब हंगामा बरपा और कांग्रेस और भाजपा कार्यकर्ताओं में टकराव की नौबत आ गई.
वही बाद में उनके रोड शो के दौरान पार्टी के एक कार्यकर्ता के साथ जो भी हुआ, वो दूसरे कार्यकर्ताओं को कतई पसंद नहीं आया होगा.

दरअसल, सिद्धू का स्वागत करने के लिए कार्यकर्ता वाहन पर चढ़कर सिद्धू को मालाएं पहना रहे थे. इस दौरान एक समर्थक की तरफ से पहनाई गई माला सिद्धू की पगड़ी में उलझ गई. जिससे नाराज होकर नवजोत सिंह सिद्धू ने युवक को गाड़ी से धक्का दे दिया.

Related Posts

#Delhi_ Violence : जांच के लिए दो एसआइटी का गठन,  आप पार्षद ताहिर हुसैन पर एफआइआर दर्ज, फैक्ट्री सील

दिल्ली हिंसा की जांच के लिए विशेष जांच टीम (एसआईटी) का गठन किया गया है.  दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच के तहत दो एसआईटी का गठन किया गया है.

इसे भी पढ़ेंःअमित शाह को जाधवपुर में रैली की नहीं मिली इजाजत, ममता सरकार के खिलाफ चुनाव आयोग जायेगी BJP
इस पूरे वाकया का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया.

वीडियो वायरल होने पर कांग्रेस ने दी सफाई

समर्थक को गाड़ी से धक्का देने वाला वीडियो वायरल हो रहा है. और इस मामले में सिद्धू की किरकिरी भी हो रही है.
सोशल मीडिया पर लोगों का कहना था कि यह व्यक्ति किसी को भी नहीं बख्शता है. फिर चाहे वह कांग्रेस का नेता हो फिर उनकी पुरानी पार्टी भाजपा का.

इस बीच मामले को लेकर देवास कांग्रेस के नेता ने सफाई दी है. देवास के शहर संगठक अजीत भल्ला ने इस मामले में कहा कि युवक की तरफ से पहनाई गई माला सिद्धू की पगड़ी में उलझ गई.

इसके बावजदू भी वह नहीं मान रहे थे. इसलिए सिद्धू ने उनको दूर किया. इसमें धक्का देने वाली कोई बात नहीं है.

इसे भी पढ़ेंःकांग्रेस नेता खड़गे के बोल, …तो क्या मोदी विजय चौक पर लगाएंगे फांसी

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like