Education & Career

स्कॉलरशिप का लाभ देने में श्यामा प्रसाद मुखर्जी विश्वविद्यालय उदासीन, स्टूडेंट यूनियन ने की तालाबंदी 

Ranchi : गुरुवार को अखिल झारखंड छात्र संघ (आजसू पार्टी) के सदस्यों ने डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी विश्वविद्यालय में तालाबंदी की. इसका नेतृत्व विश्वविद्यालय संयोजक अभिषेक झा ने किया. मौके पर कहा कि झारखंड सरकार द्वारा हर वर्ष गरीब एवं पिछड़े वर्ग के छात्र छात्राओं को स्कॉलरशिप दी जाती है. वर्ष 2021 में डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी विश्वविद्यालय के सैकड़ों स्टूडेंट्स ने छात्रवृत्ति के लिए ई कल्याण का फॉर्म भरा था, परंतु अधिकांश का फॉर्म कॉलेजों ने पेंडिंग दिखा कर रिजेक्ट कर दिया है. छात्रवृत्ति के लिए आवेदन करनेवाले स्टूडेंट्स गरीब, पिछड़े और आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग से होते हैं. ऐसे में यदि विश्वविद्यालय प्रशासन ने आवेदन को पेंडिंग में डाल कर स्टूडेंट्स के साथ नाइंसाफी की है.  स्कॉलरशिप नहीं मिलने पर स्टूडेंट्स पर आर्थिक बोझ बढ़ेगा. इससे उन्हें कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ेगा. अखिल झारखंड छात्र संघ (आजसू पार्टी) इसे बर्दाश्त नहीं करेगी. आजसू पार्टी छात्रहित में मांग करती है कि पेंडिंग पड़े फॉर्म को अप्रूव कर दिया जाये ताकि उनको स्कॉलरशिप आसानी से मिल सके. सभी छात्र-छात्राएं अपनी आगे की पढ़ाई आसानी से कर सकें.

मौके पर कुलसचिव ने आश्वासन दिया कि कल्याण विभाग से बात कर इस मामले में उचित कार्रवाई की जायेगी. समय पर छात्रों को छात्रवृत्ति मिल सके, इसका वे प्रयास करेंगे. तालाबंदी कार्यक्रम में मुख्य रूप से आशुतोष कुमार, जगत मुरारी, पंकज सहित अन्य भी उपस्थित थे.

इसे भी पढ़ें – बंधु तिर्की के आवास पर 9 घंटे तक चली छापेमारी, कई दस्तावेज सीबीआइ को लगे हाथ

Related Articles

Back to top button