JharkhandRanchi

श्रीराम राज्य दिग्विजय रथ का रांची में होगा भव्य स्वागत

Ranchi: श्रीराम राज्य दिग्विजय यात्रा 27 नवंबर को रांची पहुंचेगी. 5 अक्टूबर 2022 (विजयादशमी के दिन) को अयोध्या से चलकर रांची आ रही है. जगद्गुरु स्वामी सत्यानंद सरस्वती जी महाराज (श्री राम जन्मभूमि आंदोलन एवं केंद्रीय मार्गदर्शक मंडल सदस्य विश्व हिंदू परिषद) एवं चंपत राय (महासचिव,श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र न्यास) के सान्निध्य एवं मार्गदर्शन में भारत एवं नेपाल को जोड़ने वाली यह यात्रा 27 राज्यों का 60 दिनों में 15000 किलोमीटर तय करेगी. गौरतलब है कि श्रीरामजी ने लंका विजय के पश्चात अयोध्या पहुंचने पर राज्याभिषेक के बाद अश्वमेध यज्ञ किया था. विश्व हिंदू परिषद के प्रचार प्रसार विभाग के प्रमुख अमर प्रसाद के मुताबिक वर्तमान में श्री राम लला का 500 वर्षों की कठिन प्रतीक्षा के बाद भव्य राम मंदिर का निर्माण अयोध्या में हो रहा है जो दिसंबर 2023 तक पूर्ण होगा. जनवरी 2024 में नए मंदिर के गर्भ गृह में रामलला विराजेंगे. इसी संदर्भ में यह यात्रा भारत के 27 राज्यों से होते हुए विजयादशमी से गीता जयंती तक 60 दिनों में अपनी यात्रा पूर्ण करेगी. अयोध्या से जनकपुरी, काठमांडू, हिमाचल प्रदेश, पंजाब, राजस्थान, गुजरात एवं अन्य राज्यों को होते हुए यह यात्रा पूरे भारत का भ्रमण कर रही है. इस यात्रा में प्रत्येक दिन सुबह 5:00 बजे पूजन–हवन का कार्यक्रम के बाद गौ पूजन एवं स्थानीय क्षेत्र में वृक्षारोपण एवं अन्य सेवा कार्य किया जाता है. इस दिव्य दिग्विजय रथयात्रा में रथ पर श्री रामचंद्र, माता सीता के साथ श्री राम जन्मभूमि का विराट भव्य मंदिर का प्रारूप एवं श्रीराम लला का अखंड राम ज्योति विद्यमान है. यह शहर के विभिन्न मार्गों से होकर गुजरेगी. इस रथयात्रा में अयोध्या के कई साधु संत महंत भी शामिल हैं जिनका स्वागत एवं अभिनंदन समस्त सनातन धर्मावलंबी के लोगों द्वारा विभिन्न स्थानों पर किया जाएगा.

इसे भी पढ़ें: ISRO: PSLV-C54 रॉकेट लॉन्च, महासागरों के अध्ययन के लिए ओशियन सैट व भूटान के उपग्रह समेत नौ सैटेलाइट का प्रक्षेपण

Related Articles

Back to top button