न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

25 सिंतबर से दो अक्टूबर तक राज्य में चलेगा #Shramshakti अभियान, असंगठित कामगारों का होगा निबंधन

मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव ने श्रमाधीक्षकों, श्रम प्रसार पदाधिकारियों को दिया निर्देश-कठिनाई दूर कर लें. 25 को मुख्यमंत्री करेंगे अभियान की लांचिंग, लाइव प्रसारण देख पायेंगे कामगार.

630

Ranchi : राज्य सरकार श्रमशक्ति अभियान शुरू करने वाली है जो पंडित दीनदयाल उपाध्याय की जयंती (25 सितंबर) से लेकर गांधी जयंती (2 अक्टूबर) तक राज्य भर में चलेगी.

अभियान का मुख्य उद्देश्य असंगठित क्षेत्र के कामगारों का निंबधन करना है. साथ ही उन्हें केंद्र और राज्य सरकार की योजनाओं से जोड़ना है.

इसकी जानकारी मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव सुनील कुमार वर्णवाल ने दी. शनिवार को उन्होंने श्रमाधीक्षकों, श्रम प्रसार पदाधिकारियों के साथ बैठक की. उन्होंने इसे एक चुनौतिपूर्ण कार्य बताते हुए कहा कि सुदूर गांवों के कामगारों को इस योजना से जोड़ना है.

इसे भी पढ़ें : #Jmm: कोल्हान में विधायक चंपई सोरेन हेमंत से रूठे, तो कुणाल षाड़ंगी कर रहे हैं पार्टी छोड़ने की तैयारी

hotlips top

मुख्यमंत्री करेंगे लॉन्च

इन गांवों में लोहरदगा का पेशरार और लातेहार का सरयू आदि क्षेत्र है. कार्यक्रम की लांचिंग मुख्यमंत्री रघुवर दास की ओर से 25 सितंबर को की जायेगी. अभियान का प्रचार-प्रसार किया जायेगा. उन्होंने कहा कि सरकार असंगठित क्षेत्र के एक-एक कामगार को जागरूक कर उनका हक दिलाना चाहती है.

इस दौरान सुनील वर्णवाल ने कहा कि निंबधन के लिये कामगारों की तस्वीर, प्रमाण पत्र लिया जायेगा. इसके लिये कोई शुल्क नहीं लिया जायेगी. इसके साथ कामगारों को सिर्फ पासबुक की फोटोकॉपी लानी है.

वर्णवाल ने कहा कि निबंधन का मकसद सिर्फ कामगारों का डाटाबेस तैयार कर डिजिटल पहचान सुनिश्चित करना है जिससे वर्तमान योजनाओं का लाभ मिले. साथ ही अगर कोई नयी योजना बनती है तो एसएमएस से जानकारी मिले.

इसे भी पढ़ें : मुख्यमंत्री जी संथाल परगना के पांच गांव गये, नहीं दिखा विकास

असंगठित क्षेत्र के मजदूर लाइव देख पायेंगे कार्यक्रम

लांचिंग कार्यक्रम की जानकारी देते हुए सुनील वर्णवाल ने कहा कि मुख्यमंत्री के इस लांचिंग कार्यक्रम को सभी मजदूर देख पायेंगे. सभी जिलों और प्रखंडों में असंगठित क्षेत्र के मजदूरों के लिए लाइव प्रसारण किया जायेगा.

उन्होंने समय रहते इसकी मुकम्मल तैयारी कर लेने का निर्देश दिया. श्रमाधीक्षकों और श्रम प्रसार पदाधिकारियों को निर्देश देते हुए उन्होंने कहा कि अगर इस कार्य में कोई कठिनाई हो तो समय रहते इसे दूर कर लेना चाहिये. इसके लिये सभी प्रखंड श्रम प्रसार पदाधिकारी प्रखंड समन्वयकों के साथ बैठक कर कार्ययोजना बनायें.

श्रमाधीक्षकों को निर्देश दिया गया कि शहरी क्षेत्र में नगर निगम और नगर निकाय के समन्वय से शत प्रतिशत कार्य करें.

मौके पर श्रम विभाग के प्रधान सचिव राजीव अरूण एक्का, उद्योग सचिव के रवि कुमार समेत अन्य उपस्थित थे.

इसे भी पढ़ें : #JAP4  बोकारो ने बिना मेडिकल टेस्ट लिये जारी कर दिया ‘नियुक्त’ अभ्यर्थियों का परिणाम

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

o1
You might also like