JamshedpurJharkhand

बेसमेंट पार्किंग की जगह धड़ल्ले से चल रही हैं दुकानें, जमशेदपुर नोटिफाइड एरिया के अधिकारियों की मिलीभगत से चल रहा है खेल

Jamshedpur : जमशेदपुर के कॉमर्शियल भवनों में नक्शे का विचलन कर पार्किंग की जगह धड़ल्ले से दुकानें चलायी जा रही हैं. यह खेल भवन मालिकों और जमशेदपुर नोटिफाइड एरिया के अधिकारियों की मिलीभगत से चलाया जा रहा है. नक्शे में इन कॉमर्शियल भवनों के बेसमेंट को पार्किंग एरिया दिखाया गया है, लेकिन कहीं भी बेसमेंट में पार्किंग नहीं है. जमशेदपुर नोटिफाइड एरिया के अधिकारियों इस मामले पर कार्रवाई करने के बदले चुप्पी साधे बैठे हैं.

Advt

सड़क बनी पैसे कमाने का जरिया

पिछले कुछ समय से टाटा स्टील और जिला प्रशासन द्वारा जमशेदपुर की सड़कों के चौड़ीकरण और सौंदर्यीकरण करने के नाम पर सड़क पर से अवैध अतिक्रमण को हटाया जा रहा है. वहीं नोटिफाइड एरिया को सरकार का राजस्व को बढ़ाने की इतनी चिंता है कि जिस भी सड़क को चौड़ा किया जाता है, कुछ दिन बाद उसे पार्किंग के लिए ठेके पर दे दिया जाता है. वहीं भवनों में हो रहे नक्शा विचलन और बेसमेंट पार्किंग की तरफ नहीं जाता है. इस बारे में जानकारी के लिए जेएनएसी के स्पेशल ऑफिसर को फोन करने पर उन्होंने फोन नहीं उठाया.

सड़क पर लगता है जाम

बाजरों और कॉमर्शियल भवनों में पार्किंग की जगह दुकानें बना देने से लोग सड़क पर ही अपनी गाड़ियों को पार्क करते हैं. जिसके कारण जमशेदपुर के सड़कों पर आये दिन जाम के हालात बनते रहते हैं. बाजारों के अंदर बने इन भवनों के अंदर फायर सेफ्टी का भी कोई खयाल नहीं रखा जाता है.

इसे भी पढ़ें – आदित्यपुर के हरिओमनगर में दो पक्ष भिड़े, जमकर चले लाठी-डंडे, आधा दर्जन से अधिक घायल

Advt

Related Articles

Back to top button