न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

शिवपाल ने कहा, अखिलेश यादव, मायावती दोनों धोखेबाज, गठबंधन नहीं ठगबंधन है

अखिलेश और मायावती भरोसेमंद नहीं बल्कि धोखेबाज हैं. दोनों ने सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव को धोखा दिया है.  

24

 Balia : प्रगतिशील समाजवादी पार्टी अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव ने शनिवार को सपा मुखिया अखिलेश यादव व बसपा सुप्रीमो मायावती को धोखेबाज बताया है. सहतवार कस्बे के एक कार्यक्रम में शिरकत करने आये शिवपाल ने संवाददाताओं से कहा कि सपा—बसपा गठबंधन बेमेल है.  अखिलेश और मायावती भरोसेमंद नहीं बल्कि धोखेबाज हैं. दोनों ने सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव को धोखा दिया है.  शिवपाल ने कहा कि बसपा ने 1993 में सपा के साथ मिलकर सरकार बनाने के 17 माह बाद ही मुलायम को धोखा दे दिया था.

उन्होंने कहा कि वह नहीं चाहते थे कि सपा में विघटन हो लेकिन चुगलखोरों व चापलूसों ने विघटन करा दिया. बड़े भाई रामगोपाल यादव पर सपा को बर्बाद करने का आरोप लगाते हुए शिवपाल ने कहा कि रामगोपाल यादव के कारण ही सपा की लोकसभा व विधानसभा चुनाव में बुरी स्थिति हुई है.

यह गठजोड़ एक ठगबंधन है और पैसे के लिए है

इससे पहले शिवपाल सिंह यादव ने पिछलो रविवार को कहा था कि उनकी प्रगतिशील समाजवादी पार्टी-लोहिया आगामी लोकसभा चुनाव के लिए उत्तर प्रदेश में कांग्रेस के साथ गठबंधन करने के लिए तैयार है.  न्यूज एजेंसी को दिए एक इंटरव्यू में पीएसपीएल प्रमुख शिवपाल यादव ने कहा था कि सपा और बसपा गठबंधन एक ठगबंधन है.  उन्होंने कहा, यह गठजोड़ एक ठगबंधन है और पैसे के लिए है.  यह संभव है कि गठबंधन बनाने से पहले पैसा लिया गया हो.

हालांकि, उन्होंने कहा कि कांग्रेस के साथ गठबंधन बनाने के संबंध में अभी तक कोई बातचीत नहीं हुई है, लेकिन जितने भी सेक्युलर दल हैं, कांग्रेस भी है, अगर कांग्रेस हमसे संपर्क करेगी, हमसे बात करेगी, तो मैं बिल्कुल तैयार हूं.

इसे भी पढ़ेंः ममता की रैली में विपक्षी नेताओं ने भरी हुंकार, मोदी सरकार को उखाड़ फेंकने को तैयार

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: