न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

शिव की आराधना मात्र से संकटों से मुक्ति संभव : हरिद्रानंद

हरिद्रानंद फाउंडेशन द्वारा जल एवं जंगल बचाओ पर संगोष्ठी संपन्न

48

Palamu : चंदा मामा सब के मामा, शिव घर-घर के बाबा हो गए हैं. शिव की आराधना मात्र से ही संकटों से मुक्ति संभव है. उक्त बातें हरिद्रानंद जी ने कही. वे बुधवार को शिव शिष्‍य हरिद्रा नंद फाउंडेशन मेदिनीनगर द्वारा गुरुकुल आइआइटी में आयोजित जल एवं जंगल बचाओ पेड़ लगाओ संगोष्‍ठी कार्यक्रम के दौरान कही. इसके पूर्व उन्होंने भगवान शिव के समक्ष दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम की शुरुआत की. मौके पर फाउंडेशन के अध्यक्ष बरखा सिन्हा, मुख्य सलाहकार अर्चिता आनंद, शिव शिष्‍य परिवार के अध्यक्ष प्रो. रामेश्वरम मंडल एवं फाउंडेशन के उपाध्यक्ष शिवकुमार विश्वकर्मा मुख्य रूप से उपस्थित थे.

वृक्षों से ही जल है और जीवन

हरिद्रानंद ने कहा कि भारतीय धर्म-दर्शन एवं अध्‍यातम में भगवान शिव को पुरातन काल से ही आदि गुरु जगत गुरु एवं विश्व गुरु कहा गया है. हम सभी को शिव गुरु से दया की याचना करना, चर्चा करना एवं नमः शिवाय महामंत्र से अपने गुरु शिव को नमन करना चाहिए, तभी जीवन धन्य होगा. उन्होंने लोगों के बीच आह्वान किया कि जाति धर्म वर्ण संप्रदाय से ऊपर उठकर लोगों को भगवान शिव को अपना गुरु मानना चाहिए. साथ ही उन्होंने कहा कि जल और जंगल की जो भयावह स्थिति है. उस पर गहरी चिंतन की जरूरत है. उन्होंने लोगों से ज्यादा से ज्यादा वृक्ष लगाने के लिए प्रेरित किया. कहा कि वृक्षों से ही जल है और जीवन भी है.

कार्यक्रम के दौरान स्थानीय स्वयं सेवक आलोक, विश्वजीत, सुमित, विजय, निरंजन, कौशल,शोभा, जमुना, संतोष, नागेंद्र, विजय, सत्‍यनारायण, महेंद्र चंद्रदेव, श्रवन, राजेश एवं कमलेश समेत शिव शिष्य परिवार के सैकड़ों की संख्या में महिला पुरुष मुख्य रूप से उपस्थित थे.

इसे भी पढ़ेंःसमरेश सिंह की राजनीतिक सल्तनत का नया चेहरा होंगे बेटे संग्राम सिंह, धनबाद लोकसभा क्षेत्र से करेंगे दो-दो हाथ

इसे भी पढ़ें- बकोरिया कांड : सीबीआई ने दर्ज की प्राथमिकी, स्पेशल क्राईम ब्रांच-दिल्ली करेगी जांच

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: