Lead NewsNational

मुंबई एयरपोर्ट पर अडानी का नाम देख भड़के शिवसेना कार्यकर्ता, विरोध में की तोड़-फोड़

कार्यकर्ता बोले, छत्रपति शिवाजी महाराज एयरपोर्ट के नाम को बदला जाना नहीं करेंगे बर्दाश्त

Mumbai : देश में पिछले तीन दशकों से निजीकरण का दौर चल रहा है. इसी क्रम में देश के कई महत्वपूर्ण एयरपोर्ट का संचालन का अधिकार देश के सबसे अमीर व्यक्तियों में शुमार गौतम अडानी के हाथों चला गया है. अभी हाल में मुंबई के एयरपोर्ट को भी अडानी एयरपोर्ट बना दिया गया है.

Advt

हालांकि महाराष्ट में कांग्रेस और एनसीपी के साथ शासन कर रही शिवसेना के कार्यकर्ताओं को यह बदलाव पसंद नहीं आया है. आरोप है कि शिवसेना के कार्यकर्ताओं ने मुंबई एयरपोर्ट के पास लगाए गए अदानी के बैनरों और डिजाइन के साथ लिखे गए नाम को नुकसान पहुंचाया है.

बताया जा रहा है कि शिवसेना के कार्यकर्ताओं ने एयरपोर्ट पर जमकर तोड़फोड़ की है. शिवसेना कार्यकर्ताओं का कहना है कि पहले यह एयरपोर्ट छत्रपति शिवाजी महाराज एयरपोर्ट के नाम से जाना जाता था. ऐसे में अब यहां पर अदानी एयरपोर्ट का बोर्ड लगाया जा रहा है. इसे बर्दाश्त नहीं किया जा सकता.

इसे भी पढ़ें :5 अगस्त तक पूरे बिहार में बारिश और वज्रपात की चेतावनी, मौसम विभाग ने जारी किया ब्लू अलर्ट

गौतम अडानी ने खुद ट्वीट कर दी थी जानकारी


बता दें कि पिछले कुछ वर्षों में अदानी ग्रुप में एविएशन सेक्टर में बड़ा इन्वेस्ट किया है. यहीं कारण है कि देश के कई बड़े एयरपोर्ट अब अदानी एयरपोर्ट बन चुके हैं. इसी क्रम में मुंबई एयरपोर्ट का संचालन की जिम्मेवारी भी अदानी समूह के पास आ गई है.
इस बात की जानकारी अदानी ग्रुप के एमडी गौतम अडानी ने खुद ट्वीट कर दी थी. हालांकि संचालन की जिम्मेवारी जुलाई में ही मिल गई थी लेकिन अब जब बैनर लगाए जा रहे थे तो शिवसेना ने इसका कड़ा विरोध किया.

इसे भी पढ़ें :वोडाफोन आइडिया को कर्ज से उबारने के लिए हिस्सेदारी छोड़ने को तैयार कुमार मंगलम बिड़ला

विपक्ष लगातार करता रहा है विरोध

 

केंद्र सरकार लगातार देश में सरकारी संस्थाओं का निजीकरण कर रही है. देश के कई एयरपोर्टों का संचालन अब अदानी ग्रुप कर रहा है. विपक्ष लगातार इन मसलों पर केंद्र सरकार पर हमला कर रहा है. विपक्ष के विरोध के बावजूद ये सिलसिला लगातार बना हुआ है.

इसे भी पढ़ें :नीतीश कुमार पर चिराग का आरोप कहा- पीएम मोदी का पद छीनने की फिराक में हैं सीएम

Advt

Related Articles

Back to top button