न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

शिंजो आबे ने मोदी को भरोसेमंद दोस्त बताया,  दोनों ने एक्सप्रेस ट्रेन कैजी की सवारी की  

जिस दिन मुंबई और अहमदाबाद के बीच बुलेट ट्रेन दौड़ेगी,  वह दिन भारत-जापान की दोस्ती का चमकता हुआ संकेत होगा

24

Tokyo : शिंजो आबे ने पीएम मोदी को अपने सबसे भरोसेमंद दोस्तों में से एक बताया है.  पीएम मोदी के जापान दौरे के दौरान एक अखबार को दिये गये मेसेज में आबे ने कहा कि भारत एक वैश्विक शक्ति के रूप में क्षेत्र और दुनिया की समृद्धि के रास्ते पर लेकर चल रहा है.  कहा कि वह स्वतंत्र और ओपन हिंद-प्रशांत क्षेत्र के लिए भारत के साथ द्विपक्षीय संबंधों को और मजबूत बनाने की दिशा में काम करने को इच्छुक हैं. आबे के अनुसार जिस दिन मुंबई और अहमदाबाद के बीच बुलेट ट्रेन दौड़ेगी,  वह दिन भारत-जापान की दोस्ती का चमकता हुआ संकेत होगा. बता दें कि मोदी 13वें भारत- जापान वार्षिक शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए शनिवार की शाम यामानशी पहुंचे. साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने जापानी समकक्ष शिंजो आबे के साथ एक्सप्रेस ट्रेन कैजी की सवारी की.

खबरों के अनुसार दोनों नेता यामानशी स्थित औद्योगिक रोबॉट विनिर्माता कंपनी फानुक का कारखाना का अवलोकन करने गये थे और वापसी में ट्रेन के सफर का आनंद उठाया. यामानशी से टोक्यो की दूरी लगभग 110 किलोमीटर है.  बता दें कि पहले दिन  मोदी जब होटल माउंट फूजी पहुंचे, तो आबे ने उनका स्वागत किया.  दोनों नेता बाग में साथ-साथ घूमते भी नतर आये.

इसे भी पढ़ेंः  दुनिया में 3.6 अरब लोग मिडिल क्लास का हिस्सा : ब्रुकिंग्स इंस्टीट्यूट की रिपोर्ट
 

पीएम मोदी ने शिंजो आबे को तोहफे दिये

पीएम मोदी ने अपने जापानी समकक्ष शिंजो आबे को कलात्मक दरियां और प्रस्तर के दो हस्तनिर्मित कटोरेनुमा पात्र उपहारस्वरूप भेंट किये. ये पात्र राजस्थान से प्राप्त गुलाबी एवं पीत वर्णी स्फटिक के हैं.  एक अधिकारी ने बताया कि पीएम मोदी ने आबे को परंपरागत पच्चीकारी वाला लकड़ी का जोधपुरी संदूकचा भी भेंट किया है.  ये उपहार दो दिवसीय वार्षिक भारत-जापान शिखर सम्मेलन में भाग लेने के अवसर के लिए विशेष रूप से तैयार किये  गये हैं.

इसे भी पढ़ेंः  जेटली ने पूछा, क्या इंदिरा और राजीव वहां जाते, जहां भारत तेरे टुकड़े होंगे…जैसे नारे लगाये जाते?  

 शिखर बैठक में होगी सुरक्षा और आर्थिक सहयोग मजबूत करने पर चर्चा

बताया गया है कि सोमवार को दोनों नेता टोक्यो में औपचारिक शिखर बैठक करेंगे.  बैठक के एजेंडे में द्विपक्षीय सुरक्षा और आर्थिक सहयोग को मजबूत करना शामिल है.  बता दें कि दिल्ली से जापान के लिए रवाना होने से पूर्व मोदी ने भारत और जापान को आपसी लाभ वाला गठजोड़ बताया था.  कहा था कि आर्थिक और प्रौद्योगिकी की दृष्टि से आधुनिकीकरण में भारत के लिए जापान सबसे भरोसेमंद भागीदार है.  जानकारी के अनुसार यह मोदी की आबे के साथ 12वीं बैठक है.  प्रधानमंत्री बनने के बाद मोदी की आबे के साथपहली बैठक सितंबर, 2014 में हुई थी.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: