Bihar

मोदी सरकार को सता रही शत्रुघ्न सिन्हा की चिंता, अब मिलेगी वाई प्लस श्रेणी की सुरक्षा

Patna : केंद्र सरकार के गृह मंत्रालय को पटना साहिब के सांसद व पूर्व मंत्री शत्रुघ्न सिन्हा की जान की चिंता सता रही है. उन पर किसी भी तरह के हमले के खतरे को देखते हुए उन्हें विशेष सुरक्षा व्यवस्था उपलब्ध कराने का निर्देश गृह मंत्रालय ने दिया है. गृह मंत्रालय ने यह निर्देश बिहार सरकार के अलावा महाराष्ट्र सरकार को दिया है. बता दें कि शत्रुघ्न सिन्हा दिल्ली के अलावा मुंबई और पटना में भी रहते हैं.

केन्द्र ने शत्रुघ्न सिन्हा को वाई प्लस श्रेणी की सुरक्षा घेरे में रखा है, लिहाजा उन्हें इसी कैटगरी की सुरक्षा उपलब्ध कराये जाने का निर्दश राज्य सरकारों को दिया है. बता दें कि पिछले साल नवंबर में केंद्र सरकार ने तृणमूल कांग्रेस छोड़कर भाजपा में आने वाले मुकुल रॉय को भी वाई प्लस कैटगरी की सुरक्षा दी थी.

इसे भी पढ़ें  : पटना में बोले अमित शाह, बिहार में भाजपा-जदयू गठबंधन अटूट, सभी 40 लोकसभा सीटें जीतेंगे

सिन्हा के दौरे पर वाई प्लस श्रेणी का सुरक्षा घेरा दिया जायेगा

गृह मंत्रालय के इस आदेश के बाद बिहार पुलिस की खुफिया शाखा ने सभी जिलों के डीएम-एसपी को सुरक्षा इंतजाम के मद्देनजर पत्र जारी किया है. गृह मंत्रालय द्वारा राज्य सरकार को भेजे गये पत्र में कहा गया है कि सांसद शत्रुघ्न सिन्हा के संबंध में सुरक्षा एजेंसियों ने खतरे की आशंका जताई है. हालांकि, खतरे का इनपुट को लेकर कोई विशेष जानकारी नहीं दी गयी है. बता दें कि अब शत्रुघ्न सिन्हा जहां भी दौरे पर जायेंगे, उन्हें वाई प्लस श्रेणी का सुरक्षा घेरा दिया जायेगा.

सरकार को बदनाम करने के लिए शत्रुघ्न सिन्हा पर हमला करवा सकते हैं विरोधी

सूत्रों के अनुसार मेादी सरकार को डर है कि उनके विरोधी सरकार को बदनाम करने के लिए चुनाव के ठीक पहले शत्रुघ्न सिन्हा पर हमला करवा सकते हैं. आज भी शत्रुघ्न सिन्हा लोकप्रिय हैं, वे जहां भी जाते हैं, उनके समर्थक उनकी एक झलक पाने को बेताब रहते हैं, ऐसे में उनकी सुरक्षा की चिंता सरकार को है. बता दें कि शत्रुघ्न सिन्हा हाल के दिनों में प्रधानमंत्री मोदी की घोर आलोचना करते रहे हैं. उन्होंने नोटबंदी से लेकर जीएसटी का जोरदार विरोध किया था. पार्टी के वरिष्ठ नेताओं लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, अरुण शौरी जैसे नेताओं को नजरअंदाज करने और हाशिए पर धकेलने का आरोप लगाते हुए मोदी और अमित शाह की आलोचना की थी.

बता दें कि हाल के दिनों में शत्रुघ्न सिन्हा ने राजनीतिक नजदीकियां राजद से बढ़ी हैं. ऐसे में माना जा रहा है कि वे अगला लोकसभा चुनाव राजद की सहयोगी कांग्रेस के टिकट पर लड़ सकते हैं. वाई प्लस कैटगरी सुरक्षा वीवीआईपी सुरक्षा होती है. इसमें  11 सुरक्षाकर्मी तैनात होते हैं. इनमें दो पीएसओ होते हैं. बता दें कि पिछले साल  केंद्र सरकार ने कई वीवीआईपी लोगों की सुरक्षा में कटौती की थी. इनमें राजद अध्यक्ष लालू यादव भी शामिल थे.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं
Telegram
Advertisement

Related Articles

Back to top button
Close