न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

शत्रुघ्न सिन्हा को तीसरी बार रिकॉर्ड अंतर से सीट जीतने का भरोसा

51

Patna : शत्रुघ्न सिन्हा भाजपा छोड़ने और कांग्रेस में शामिल होने के बाद अपने संसदीय क्षेत्र के चार दिवसीय दौरे पर पहुंचे थे. इस दौरान उन्होंने भरोसा जताया कि वह तीसरी बार रिकॉर्ड अंतर से सीट पर जीत हासिल करेंगे.

पटना साहिब से दूसरी बार सांसद शत्रुघ्न सिन्हा शुक्रवार शाम पटना हवाई अड्डे पर उतरे और वहां मौजूद संवाददाताओं से कहा कि 2014 के लोकसभा चुनाव में उन्होंने बिहार में सबसे ज्यादा अंतर से जीत हासिल की थी. इस बार नया रिकॉर्ड बनेगा.

इसे भी पढ़ें- राजनीतिक हलकों में चर्चा,  बहन मायावती क्या 23 मई के बाद भाजपा के साथ गठबंधन कर लेंगी?

hosp3

इन्हें हराकर सांसद बने थे शत्रुघ्न 

‘‘बिहारी बाबू’’ के नाम से लोकप्रिय शत्रुघ्न ने भोजपुरी फिल्मों के अभिनेता कुणाल को पराजित किया था. कुणाल पिछले लोकसभा चुनाव में कांग्रेस के उम्मीदवार थे. उससे पहले 2009 में भाजपा उम्मीदवार के तौर पर उन्होंने बॉलीवुड कलाकार शेखर सुमन को हराया था. सुमन भी कांग्रेस के उम्मीदवार थे.

पिछले हफ्ते कांग्रेस में शामिल होने वाले शत्रुघ्न ने कहा कि इतने दिनों से मैं जो वादे कर रहा था उसे पूरा करने आया हूं कि जगह वहीं होगी लेकिन स्थिति अलग होगी. मैं उसी स्थान पर लौट आया हूं. आप जानते हैं कि किन परिस्थितियों में मैंने भाजपा छोड़ी है.

इसे भी पढ़ें- मोदी कर्नाटक में बेाले, कांग्रेस-जेडीएस दोनों का मिशन, कमीशन है

1990 के दशक में भाजपा से जुड़े थे शत्रुघ्न 

एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि मेरी बेटी सोनाक्षी ने पहले भी मेरे लिए प्रचार नहीं किया और ना ही इस बार वह ऐसा करेगी. वह राजनीति से नहीं है. बहरहाल, जिस शहर में मैं पला-बढ़ा वहां चुनाव प्रचार करने के लिए मैं स्टार प्रचारकों पर निर्भर नहीं हूं. सिन्हा 1990 के दशक से ही भाजपा से जुड़े हुए थे लेकिन पिछले कुछ वर्षों से वह नेतृत्व की आलोचना कर रहे थे.

इसे भी पढ़ें- कांग्रेस के तंज पर केंद्रीय मंत्री का पलटवारः ‘चाहे जितना अपमानित किया जाए, अमेठी के लिये काम करती…

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: