National

#ShashiTharoor ने पूछा, क्या एक चुनावी जीत ने इतनी ताकत दे दी है कि किसी को भी मार दें…मैं भी #Hindu हूं…

विज्ञापन

NewDelhi : कांग्रेस नेता और तिरूवनंतपुरम से सांसद शशि थरूर ने गौ हत्या के नाम पर हुई हत्याओं को लेकर मोदी सरकार पर निशाना साधा है. इस क्रम में थरूर ने कहा कि क्या एक चुनाव परिणाम ने हमें इतनी ताकत दे दी हैं कि हम लोग कुछ भी करें और किसी को भी मार दें? क्या यह हमारा भारत है? क्या हमारा हिंदू धर्म हमें यही सिखाता हैं?

पुणे में उन्होंने कहा कि हमने छह साल से क्या देखा है.  पुणे में जहां मोहसिन शेख की हत्या की गयी. उसके बाद मोहम्मद अखलाक को इसलिए मारा गया क्योंकि वह बीफ ले जा रहा था. बाद में पता चला कि उसके पास बीफ नहीं था. शशि थरूर ने जोर देकर अगर बीफ होता तो भी किसने मारने का अधिकार नहीं दिया था.

इसे भी पढ़ें- रांची: प्रतिबंधित संगठन #Al-Qaeda का मोस्ट वांटेड आतंकी कलीमउद्दीन गिरफ्तार, DGP ने टीम को दी बधाई

advt

क्या हमारा हिंदू धर्म यह कहता है?

पहलू खान पर बोलते हुए कांग्रेस नेता ने कहा कि पहलू खान के पास डेयरी फार्मिंग के लिए गाय ले जाने का लाइसेंस था, लेकिन उन्हें भी मौत के घाट उतार दिया गया. कांग्रेस सांसद शशि थरूर ने सवाल उठाते हुए कहा कि क्या एक चुनाव के नतीजों ने उनको शक्ति दे दी है कि ऐसे  लोग कुछ भी कर सकते हैं या किसी को भी मार सकते हैं.

शशि थरूर ने पूछा, क्या यह हमारा भारत है. क्या हमारा हिंदू धर्म यह कहता है? मैं भी हिंदू हूं लेकिन मैं इस तरह का नहीं हूं. इस क्रम में शशि थरूर ने कहा कि जब ऐसे लोग किसी को मार रहे होते हैं तो जय श्री राम बोलने के लिए कहते हैं. यह हिंदू धर्म का अपमान है. जिस तरह उनके नाम का इस्तेमाल करके लोगों का मारा जा रहा है यह भगवान राम का अपमान है.

जान लें कि  शशि थरूर मोदी सरकार की नीतियों के प्रखर आलोचकों में से एक हैं. हालांकि एक दिन पहले ही उन्होंने पीओके पर भारत सरकार की नीति का समर्थन किया था. थरूर ने यह भी कहा  कि जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 हटाए जाने के तरीके से ते वे सहमत नही हैं.

इसे भी पढ़ें – #RSS प्रचारक ने कड़िया मुंडा को लिखा #letter, जतायी आशंका-‘आंतरिक अलगाववाद के नये केंद्र हो सकते हैं जनजातीय क्षेत्र’

adv
advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button