NEWSWING
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम का शार्प शूटर राशीद मालबारी अबु धाबी से गिरफ्तार

496

 Dubai :  अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम के शार्प शूटर और छोटा शकील के करीबी माने जानेवाले राशीद मालबारी को अबु धाबी से गिरफ्तार कर लिया गया है. भारतीय खुफिया एजेसियों के लिए यह बड़ी कामयाबी मानी जा रही है. बता दें कि मालबारी के खिलाफ इंटरपोल ने रेड कॉर्नर नोटिस जारी किया था.  इंटरपोल ने 2000 में दाऊद के प्रतिद्वंद्वी गैंगस्टर छोटा राजन को मारने की कोशिश करने के बाद 38 वर्षीय शूटर के खिलाफ नोटिस जारी किया था.   राशिद मालबारी 2014 में नेपाल के रास्ते इंडिया से फरार हो गया था. बताया गया है कि मालबारी पर भाजपा उम्मीदवार वरुण गांधी को मारने की साजिश रचने का आरोप भी है.

दाऊद ने उसे छोटा राजन को बैंकॉक में मारने के लिए भेजा था

मालबारी को छोटा शकील का सबसे खास गुर्गा बताया जाता है. इससे पूर्व दो  जुलाई को राशीद ने छोटा राजन के बारे में सनसनीखेज खुलासा किया था. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार राशीद मालाबारी ने बताया था कि दाऊद ने ही उसे छोटा राजन को बैंकॉक में मारने के लिए भेजा था. हालांकि हमले में छोटा राजन बच निकला था लेकिन उसे तीन गोलियां लगी थी. माना जाता है कि उसे बचाने में भारतीय सुरक्षा एजेंसियों का हाथ है. बता दें कि अंडरवर्ल्ड डॉन छोटा राजन फर्जी पासपोर्ट मामले में तिहाड़ जेल में सजा काट रहा है. छोटा राजन पर मुंबई के पत्रकार ज्योतिर्मय डे की हत्या का आरोप है.

इसे भी पढ़ेंः लड़कियों के शिक्षित नहीं होने से आ रहा 150-300 खरब डॉलर का खर्च: विश्व बैंक

वह पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई के संपर्क में भी था

जानकारी के अनुसार 15 सितंबर, 2000 को दाऊद के चार शॉर्प शूटरों ने थाईलैंड में बैंकॉक के एक होटल में पिज्जा ब्वॉय बनकर राजेंद्र सदाशिव निखलेजे उर्फ छोटा राजन को मारने का प्रयास किया था.  छोटा राजन को उसके करीबी रोहित वर्मा ने बचाया था. उसे 32 गोलियां लगी थीं. इन चार हमलावरों में अब्दुल रशीद हुसैन उर्फ रशीद मालाबारी भी शामिल था,  बता दें कि पिछले कुछ वर्षों से अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम के खास लोगों की गिरफ्तारी लगातार हो रही है. इससे पूर्व उसके भाई सहित कई खास गुर्गे गिरफ्तार हुए हैं. इसमें फारूक टकला का नाम प्रमुख है, जिसे दुबई से गिरफ्तार किया गया था. वह पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई के संपर्क में भी था.

madhuranjan_add

  राशीद 1995 की शुरुआत में छोटा शकील के संपर्क में आया था

राशीद 1995 की शुरुआत में छोटा शकील के संपर्क में आया था. वह जेल में गिरोह के सदस्यों के लिए हवाला के सौदे किया करता था. राशीद ने 1996 में पहली हत्या की थी. उसने मस्तान के साथ मिलकर मोहन कोटियान के साथी विलास को गोली मारी थी. इसके बाद उसने पीछे मुड़कर नहीं देखा और एक के बाद एक मलाबारी हत्याएं करता चला गया. 1997 में वह छोटा शकील के गिरोह का हिस्सा बन गया और उसने राजन के संदिग्ध सूचनाकार हुसैन वास्तरा को मार डाला था.

1998 में वह मस्तान के साथ मिलकर प्रशांत और जॉन की हत्या कर दी. उसे संदेह था कि इन दोनों को छोटा राजन ने उन्हें खत्म करने की सुपारी दी है. साल 2005 में वह क्वालालंपुर में छोटा राजन के एक और सहयोगी बालू डोकर को मारने के लिए गया था. कई हत्याओं को अंजाम देने के बावजूद वह पिछले 13 वर्षों से भारत और विदेश में पुलिस से बचता रहा था.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं. 

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Averon

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: