National

बंगाल में शाह की डिजिटल रैली, कहा- एकमात्र राज्य जहां फल-फूल रहा राजनीतिक हिंसा का कारोबार

Kolkata: केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह बिहार और ओडिशा के बाद मंगलवार को पश्चिम बंगाल में डिजिटल रैली कर रहे हैं. वह यहां जन संवाद रैली को संबोधित कर रहे हैं. शाह दिल्ली से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग जरिये ये रैली कर रहे हैं.

पिछले कुछ दिनों से अमित शाह देश के अलग-अलग राज्यों में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये रैली कर रहे हैं. इसी क्रम में मंगलवार को वह बंगाल में जन संवाद रैली कर रहे हैं. इस रैली के दौरान शाह ने कहा कि पश्चिम बंगाल एकमात्र राज्य है जहां राजनीतिक हिंसा का कारोबार फल-फूल रहा है.

advt

इसे भी पढ़ें- राजनाथ पर राहुल का पलटवार: कहा- हाथ पर बयान खत्म हुआ हो तो बतायें, क्या चीनी सैनिकों ने लद्दाख पर कब्जा कर लिया है? 

ममता सरकार पर साधा निशाना

इस रैली के दौरान शाह ममता सराकर पर निशाना साधा. उन्होंने बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को सीएए, राजनीतिक हिंसा और केंद्र की योजनाएं लागू न करने जैसे कई अहम मुद्दों पर घेरा.

adv

अमित शाह ने CAA मुद्दे पर कहा कि बंगाल के लोग संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) पर ममता बनर्जी के रुख के कारण उन्हें ‘‘राजनीतिक शरणार्थी” बनाकर छोड़ देंगे. हमने प्रवासी मजदूरों के लिये जो ट्रेन चलायी उन्हें श्रमिक ट्रेन नाम दिया. जबकि ममता सरकार ने अन ट्रेनों को कोरोना एक्सप्रेस का नाम दिया. यह बोलकर उन्होंने मजदूरों का अपमान किया. शाह ने ममता को कहा कि मजदूरों की यही गाड़ी आपको बाहर करेगी.

इसे भी पढ़ें- Corona Update: देश में 24 घंटे में 9,987 नये केस, अबतक 7,466 लोगों की संक्रमण से मौत

सबसे अहम वो 18 सीट, जो हमने बंगाल से जीती: शाह

उन्होंने कहा कि हमने लोकसभा में भले ही 303 सीट जीती हों लेकिन मेरे लिए सबसे अहम वो 18 सीट हैं जो हमने बंगाल से जीती. भाजपा जिस दिन बंगाल में सरकार बनाएगी, उस दिन कुछ ही क्षणों में आयुष्मान भारत योजना को लागू करेगी.

साथ ही उन्होंने इस रैली के दौरान सर्जिकल स्ट्राइक, हवाई हमलों ने कड़ा संदेश दिया है कि हम आतंकवाद को किसी कीमत पर बर्दाश्त नहीं करेंगे.

इसे भी पढ़ें- बकोरिया कांड को बीते पांच साल, नहीं हो पाया है अब तक इंसाफ

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: