BiharBihar Election 2020

बिहार चुनाव पर नक्सली हमले का साया! सुरक्षा बलों का नक्सलियों के खिलाफ ऑपरेशन जंगल अभियान

प्रशासन ने नक्सल प्रभावित इलाकों में मतदान का समय भी घटाकर सुबह 7 बजे से 4 बजे कर दिया है. सुरक्षाबलों को  गया जिले का नक्सल कमांडर की तलाश है

विज्ञापन

Patna : बिहार में पहले चरण के चुनाव में नक्सली हमले का साया मंडरा रहा है. इसीके मद्द्नजर सुरक्षा बल ऑपरेशन जंगल चला रहे है. खबर है बिहार के चार नक्सल प्रभावित जिलों में नक्सलियों के खिलाफ प्रशासन ने बड़ा अभियान चलाया है.

प्रशासन ने नक्सल प्रभावित इलाकों में मतदान का समय भी घटाकर सुबह 7 बजे से 4 बजे कर दिया है. सुरक्षाबलों को  गया जिले का नक्सल कमांडर की तलाश है. गया से करीब 50 किलोमीटर दूर पकरी गुईया में प्रशासन से लेकर पैरामिलिट्री फोर्स को हाई अलर्ट पर रखा गया है.

इसे भी पढ़ें : बिहार चुनाव : चिराग पासवान का तंज, नीतीश कुमार को पीएम मोदी की तस्वीर की जरूरत, हमें नहीं, मोदी मेरे अभिभावक

advt

पिछले लोकसभा चुनाव में इस क्षेत्र में नक्सलियों ने दो हमले किये थे

जान लें कि पिछले लोकसभा चुनाव में इस क्षेत्र में नक्सलियों ने दो हमले किये थे, जिसमें एक सुरक्षाकर्मी की मौत हो गयी थी. चकरबंधा जंगल गया, औरंगाबाद और झारखंड के पलामू जिले तक फैला है इसलिए इसे नक्सलियों का रेड कॉरिडोर करार दिया गया है. सूत्रों के अनुसार यहां के सर्वाधिक कुख्यात नक्सल कमांडर संदीप ने लोगों से मतदान बहिष्कार की धमकी दे रखी है.

खबर है कि नक्सल कमांडर रात के अंधेरे में लैंड माइन्स बिछाकर पैरामिलिट्री फोर्स पर हमला करने की जुगत में है. इसी कारण शाम होते ही सुरक्षा बल नक्सलियों के खिलाफ आपरेशन जंगल में जुट जाते हैं.

इसे भी पढ़ें : नीतीश कुमार का लालू पर निशाना, कहा, वे हर समाज की सेवा करते हैं, लेकिन कुछ लोगों के लिए परिवार ही सबकुछ  

नक्सल प्रभावित इस इलाके में  ढाई सौ कंपनियां तैनात होंगी

सूत्रों के अनुसार रात के अंधेरे में एक कंपनी चकरबंधा के जंगलों में डॉग स्कवॉड और एंटी माइन डिटेक्टिव टीम के साथ निकलती है. दूसरी टीम जंगल से गुजरने वाली सड़क पर बाइक से लगातार गश्त करती है. सुरक्षा बल रात को वाहनों की तलाशी लेते है.

adv

CRPF कमांडेट  के अनुसार नक्सल प्रभावित इस इलाके में आने वाले दिनों में ढ़ाई सौ कंपनियां   तैनात होगी. प्रशासन ने मतदान का वक्त भी कम कर सुबह 7 बजे से 4 बजे तक कर दिया है ताकि चुनाव शांतिपूर्ण तरीके से करवाया जा सके.

इसे भी पढ़ें : राजद नेता तेजस्वी यादव ने राघोपुर विधानसभा से नामांकन दाखिल किया, सीएम नीतीश कुमार को ललकारा  

advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button