Khas-KhabarNational

प्रचंड गर्मी ने किया बेहालः उत्तर और पश्चिम भारत के कई हिस्से लू की चपेट में, 50 डिग्री तक पहुंचा पारा

New Delhi: देश में कोरोना संक्रमण की बढ़ती रफ्तार के बीच गर्मी ने लोगों की मुसीबत और बढ़ा दी है. देश के कई राज्यों में पारा चढ़ चुका है. उत्तर और पश्चिम भारत के कई इलाके लू की चपेट में हैं.

Jharkhand Rai

मंगलवार को राजस्थान के चुरू में पारा 50 डिग्री सेल्सियस के करीब पहुंच गया. वहीं राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के पालम केंद्र में अधिकतम तापमान 47.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया.

इसे भी पढ़ेंःडेढ़ लाख के पार हुआ देश में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा, चार हजार से ज्यादा मरीजों की मौत

10 सालों में दूसरी बार चुरू में पारा 50 डिग्री पर पहुंचा

राजस्थान के सभी इलाकों में जोरदार गर्मी पड़ रही है और लू के थपेड़ों ने लोगों का घरों में बंद कर दिया है. मंगलवार को चुरू में पारा 50.0 डिग्री सेल्सियस तक चला गया. मौसम विभाग के अनुसार राज्य के चुरू में मंगलवार को तापमान सबसे अधिक दर्ज किया गया.

Samford

वहां अधिकतम तापमान 50.0 डिग्री सेल्सियस रहा जो पिछले 10 वर्ष में मई के माह में दूसरा अधिकतम तापमान है. इससे पहले 19 मई 2016 को चुरू में पारा 50.2 डिग्री तक गया था.

राज्य के बाकी हिस्सों में भी गर्मी एवं लू का कहर है. मंगलवार को बीकानेर में अधिकतम तापमान 47.4 डिग्री सेल्सियस, श्रीगंगानगर में 47.0 डिग्री, कोटा में 46.5 डिग्री, जैसलमेर में 46.4 डिग्री, बाड़मेर 45.7 डिग्री, जयपुर में 45.0 डिग्री, अजमेर में 44.0 डिग्री एवं जोधपुर में 44.0 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया.

मौसम विभाग के अनुसार अगले दो दिन भी राज्य जोधपुर, बीकानेर, जयपुर, अजमेर, भरतपुर एवं कोटा संभाग विभिन्न स्थानों पर तेज लू चलने के आसार हैं. इन इलाकों में दिन का अधिकतम तापमान 45-47 डिग्री सेल्सियस तक रहने का अनुमान है.

इसे भी पढ़ेंःभारत-चीन तनावः लद्दाख में इंच भर भी पीछे नहीं हटेगी इंडियन आर्मी, शी जिनपिंग ने युद्ध की तैयारी तेज करने को कहा

दिल्ली में मई महीने का 18 सालों का रिकॉर्ड टूटा

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के पालम केंद्र में अधिकतम तापमान 47.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जबकि शहर के अधिकतर हिस्सों में अधिकतम तापमान सामान्य से 6 डिग्री तक अधिक दर्ज किया गया.

मौसम विभाग के मुताबिक गर्मी का यह सितम बुधवार को भी जारी रहेगा. हालांकि, गुरुवार को इससे कुछ हद तक राहत मिल सकती है. लेकिन 28 मई तक मौसम में खास बदलाव के आसार नहीं हैं. इस हफ्ते के आखिर में हल्कीे बारिश हो सकती है

दिल्ली का सफदरजंग वेधशाला जो पूरे शहर के तापमान का प्रतिनिधि करता है वहां पर अधिकतम तापमान 46 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. दिल्ली लू की चपेट में है. क्षेत्रीय मौसम पूर्वानुमान केंद्र के प्रमुख कुलदीप श्रीवास्तव ने बताया कि आखिरी बार सफदरजंग में 46 डिग्री अधिकतम तापमान 19 मई 2002 को दर्ज किया गया था.

सफदरजंग वेधशाला में सबसे अधिक तापमान 29 मई 1944 को 47.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था. हालांकि, पालम वेधशाला में पिछली बार सबसे अधिक तापमान 47.6 डिग्री 18 मई 2010 को दर्ज किया गया था.

भारतीय मौसम विभाग ने बताया कि दिल्ली के लोधी रोड और आयानगर वेधशाला में अधिकतम तापमान क्रमश: 45.4 डिग्री और 46.8 डिग्री दर्ज किया गया. श्रीवास्तव ने कहा कि गुरुवार को पश्चमी विक्षोभ और पूर्वी हवाओं की वजह से गर्मी से कुछ राहत मिल सकती है.

उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय राजधानी में शुक्रवार और शनिवार को धूल भरी आंधी चलने और गरज के साथ छींटे पड़ने की संभावना है. यहां पर 60 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चल सकती हैं.

यूपी, हरियाणा भी लू की चपेट में

दिल्ली के अलावे उत्त र प्रदेश, हरियाणा, मध्यथ प्रदेश और राजस्थारन में भयंकर लू चल रही है. मौसम विभाग के मुताबिक उत्तर प्रदेश के कई इलाकों में भी लू का प्रकोप जारी है. प्रयागराज 47.1 डिग्री अधिकतम तापमान के साथ प्रदेश का सबसे गर्म स्थान रहा. विभाग ने कहा कि प्रदेश में आने वाले तीन-चार दिनों तक का लू का प्रकोप जारी रहेगा.

मौसम कार्यालय ने बताया कि उत्तर प्रदेश के कुछ इलाकों में चिलचिलाती गर्मी का दौर जारी रहेगा. पूर्वी उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्सों में प्रचंड लू चलेगी. कार्यालय के मुताबिक 47.1 डिग्री सेल्सियस के साथ प्रयागराज प्रदेश का सबसे गर्म स्थान रहा. गोरखपुर और अयोध्या मंडलों में भी दिन के तापामन में तेजी से वृद्धि हुई है.

मौसम कार्यालय ने कहा कि वाराणसी और अयोध्या मंडल सहित अन्य मंडलों में तापमान सामान्य से अधिक रहा. हरियाणा, पंजाब और चंडीगढ़ मंगलवार को प्रचंड लू की चपेट में रहे और हिसार 48 डिग्री सेल्सियस तापमान के साथ सबसे गर्म स्थान रहा.

मौसम विभाग के मुताबिक हरियाणा के हिसार में इस साल गर्मी के मौसम सबसे अधिक तापमान दर्ज किया गया और यह सामान्य से पांच डिग्री अधिक है. इसके अलावा प्रदेश के नरनौल में 46 डिग्री और करनाल में 44 डिग्री तापमान दर्ज किया गया.

पंजाब में 44.7 डिग्री तापमान के साथ पटियाला सबसे अधिक गर्म स्थान रहा. लुधियाना में 44.1 डिग्री तामपान दर्ज किया गया. हरियाणा और पंजाब की संयुक्त राजधानी और केंद्र शासित प्रदेश चंडीगढ़ में 43.1 डिग्री तामपान दर्ज किया गया जो सामान्य से चार डिग्री सेल्सियस अधिक है.

गुजरात में अधिकतम तापमान 39 से 43 डिग्री सेल्सियस के बीच रहा. अहमदाबाद में 43.7 डिग्री तामपान दर्ज किया गया. वहीं महाराष्ट्र और मराठवाड़ा में भी लू का प्रकोप है और कोंकण क्षेत्र के अधिकतर हिस्सों में सामान्य से अधिक तापमान दर्ज किया गया.

इसे भी पढ़ेंः#Assam: सात जिलों में बाढ़ का कहर, करीब दो लाख आबादी प्रभावित, 28 मई तक भारी बारिश का रेड अलर्ट

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: