Corona_UpdatesNationalWorld

सेवा इंटरनेशनल, एएपीआई के चिकित्सक भारत में कोविड रोगियों को नि:शुल्क दे रहे हैं ऑनलाइन परामर्श

Houston : अमेरिका में दो प्रमुख भारतीय प्रवासी संगठनों ने भारत में कोविड-19 रोगियों के लिए नि:शुल्क चिकित्सा सलाह प्रदान करने के लिए एक ऑनलाइन टेलीहेल्थ प्लेटफॉर्म के साथ भागीदारी की है. गौरतलब है कि कोरोना वायरस की दूसरी लहर ने भारत की जन स्वास्थ्य प्रणाली को बुरी तरह से प्रभावित किया है.

इसे भी पढें : कोरोना वायरस महामारी के कारण जापान की अर्थव्यवस्था 5.1 प्रतिशत घटी

सोमवार को जारी एक बयान के अनुसार, अमेरिकन एसोसिएशन ऑफ फिजिशियंन ऑफ इंडियन-ओरिजिन (एएपीआई) और गैर-लाभकारी संगठन सेवा इंटरनेशनल की चिकित्सा इकाई, ‘डॉक्टर्स फॉर सेवा’ के साथ ही स्वयंसेवी चिकित्सक ऑनलाइन प्लेटफॉर्म ‘ईग्लोबल डॉक्टर्स’ के माध्यम से कोरोना वायरस के संभावित रोगियों को निजी परामर्श सेवाएं दे रहे हैं.

ram janam hospital
Catalyst IAS

ईग्लोबल डॉक्टर्स के अध्यक्ष और सह-संस्थापक डॉ. श्रीनी गंगासानी ने कहा कि पिछले दस दिनों में एएपीआई और ‘डॉक्टर्स फॉर सेवा’ के 100 से अधिक स्वयंसेवी चिकित्सकों को इस मंच पर पंजीकृत किया गया है. गंगासानी ने कहा कि इस समय तक, वेबसाइट को 1,00,000 से अधिक बार देखा गया है, कम से कम 2,000 रोगियों ने कोविड-19 पंजीकरण फॉर्म भरा है, और 500 रोगियों को पहले ही चिकित्सा परामर्श मिल चुका है.

The Royal’s
Pitambara
Sanjeevani
Pushpanjali

इसे भी पढें : महाराष्ट्र ने कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर को नियंत्रित कर लिया है: शिवसेना

अमेरिका और भारत में स्थित 200 से अधिक स्वयंसेवकों की एक बैक-एंड टीम उन व्यक्तियों की मदद करने को लेकर काम कर रही है, जिन्होंने ऑनलाइन फॉर्म भरा था, लेकिन अपने निर्धारित परामर्श के लिए उपस्थित होने में विफल रहे.

उन्होंने कहा, “वास्तव में, पूरे भारत से, म्मू से लेकर कोलकाता और तमिलनाडु तक मरीज लॉग इन कर रहे हैं.” एएपीआई की निर्वाचित अध्यक्ष डॉ अनुपमा गोटिमुकला ने कहा कि ईग्लोबल डॉक्टर्स प्लेटफॉर्म पर जाने से पहले व्हाट्सएप ग्रुप और जूम वेबिनार में टेलीकंसल्टेशन शुरू हुआ, जहां रोजाना 1,000 से अधिक मरीजों की काउंसलिंग की जा रही है. ईग्लोबल डॉक्टर्स अमेरिका, ब्रिटेन और भारत के चिकित्सकों और आईटी पेशेवरों के एक समूह द्वारा गठित किया गया है.

इसे भी पढें : एसीएमएस हॉस्पिटल में मरीज के इलाज में देरी से हो गयी मौत, परिजन ने सीएम से लगायी कार्रवाई की गुहार

Related Articles

Back to top button