न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

सरायकेला: चुनाव से पहले नक्सलियों ने की पोस्टरबाजी, वोट बहिष्कार की कही बात

873

Saraikela: सरायकेला खरसावां जिला में नक्सलियों ने पोस्टरबाजी की है. घटना गम्हरिया थाना अंतर्गत छोटा गम्हरिया से होकर गुजरने वाली टाटा- कांड्रा मुख्य मार्ग से सटे सर्विस रोड के गार्डवाल की है.

स्थानीय लोगों ने पोस्टरबाजी की सूचना पुलिस को दी. मामले का जानकारी मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और चिपकाये गये पोस्टर को जब्त कर लिया. पुलिस इसे शरारती तत्वों द्वारा दहशत फैलाने के उद्देश्य से लगाया गया पोस्टर बता रही है. हालांकि इस मामले में पुलिस के द्वारा जांच की जा रही है.

पोस्टर में लिखा गया है कि छापामार युद्ध को चाला यमान युद्ध में बदल डालने का काम को तेज करें. वोट का बहिष्कार करें नहीं तो हाथ काट दिया जायेगा.

इसे भी पढ़ें- #Unemployment: सफाई कर्मचारियों के 549 पद के लिए 7000 इंजीनियर, ग्रेजुएट और डिप्लोमा होल्डर ने किया आवेदन

hotlips top

पोस्टरबाजी कर नक्सली बढ़ा रहे अपनी धमक, चुनाव में खलल की आशंका

कोल्हान प्रमंडल की 14 में से 13 सीटों पर सात दिसंबर को मतदान होना है. चुनाव की तारीख जैसे-जैसे नजदीक आ रही है, नक्सली इलाके में पोस्टर चस्पा कर ग्रामीणों में दहशत कायम करने की कोशिश कर रहे हैं. इससे पहले भी कोल्हान क्षेत्र में नक्सलियों ने पोस्टरबाजी कर दहशत फैलाने का काम किया है.

इसे भी पढ़ें- मोदी की जिम्मेदारी, राज्य की कमान संभाल रहे ‘छोटे भाई’ उद्धव का करें सहयोग: शिवसेना

30 may to 1 june

गुरुवार को मुठभेड़ में मारा गया था नक्सली

सरायकेला-खरसावां जिले के कुचाई थाना के रायसिंदरी पहाड़ी पर चढ़ने के दौरान गुरुवार सुबह 10 बजे के करीब सुरक्षाबलों व नक्सलियों के बीच मुठभेड़ हुई. करीब 40 मिनट तक चली मुठभेड़ में एक नक्सली मारा गया. जबकि दो अन्य नक्सलियों को भी गोली लगी है.

मारे गये नक्सली का शव पुलिस ने बरामद कर लिया है. हालांकि, उसकी पहचान नहीं की जा सकी है. सर्च के दौरान मौके से विस्फोटक, नक्सली साहित्य और नक्सली वर्दी पुलिस ने बरामद किया है.

सीआरपीएफ की विशेष चार कंपनी और झारखंड एसटीएफ की एक कंपनी के साथ भाकपा माओवादियों के महेंद्र प्रमाणिक दस्ता की मुठभेड़ हुई है. घटनास्थल सरायकेला जिला मुख्यालय से करीब 35 किमी की दूर है.

मुठभेड़ में सुरक्षाबलों को भारी पड़ता देख नक्सली ब्लास्ट कर रायसिंदरी पहाड़ी के ऊपरी हिस्सों की ओर भाग गये.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

o1
You might also like