JharkhandSaraikela

सरायकेला: विरोधी को फंसाने के लिए बिल्डर ने खुद करवायी अपनी कार पर फायरिंग, पुलिस जांच में हुआ खुलासा

Seraikela: आदित्यपुर-कांड्रा मार्ग स्थित मंगलम होम्स के सामने बिल्डर संजय महंती ने अपनी कार पर खुद ही फायरिंग करवायी थी. ये मामला 18 जुलाई की शाम का है. इस काम के लिए बिल्डर ने शूटरों को करीब दो लाख रुपया भी दिया था. सरायकेला एसपी मो. अर्शी के निर्देश पर गठित पुलिस की टीम ने इस मामले का खुलासा किया.

दरअसल बिल्डर संजय महंती ने अपने विरोधी संजय प्रधान और अशोक प्रधान पर फायरिंग करने का आरोप लगाया था. लेकिन पुलिस की जांच और शूटरों की गिरफ्तारी से सच्चाई सामने आ गयी. संजय महंती ने अपने विरोधी संजय प्रधान और अशोक प्रधान को फंसाने और बॉडीगार्ड पाने के लिए ये साजिश रची थी.

इस मामले में पुलिस ने कार्रवाई करते हुए सात आरोपियों को गिरफ्तार किया है. गिरफ्तार हुए आरोपियों में संजय महंती, शंकर कुंवर, संतोष चौहान, चांद कुमार,अजय मंडल,अमित पॉल और शंकर पॉल शामिल हैं.

इसे भी पढ़ें –  रिम्स में मरीजों को खाना पहुंचाने वाले कैंटीन के तीन कर्मी कोरोना पॉजिटिव

साजिश के तहत की गयी थी फायरिंग

घटना का खुलासा करते हुए सरायकेला एसपी मो. अर्शी ने बताया की बिल्डर संजय महंती जमीन बिक्री का काम करते हैं. इसी दौरान संजय महंती का अशोक प्रधान और उनके भाई से जमीन के पैसे के लेनदेन को लेकर विवाद हो गया. अशोक प्रधान ने संजय महंती के साथ पहले की गयी पावर ऑफ आटॉर्नी को रद्द कर दिया.

जिससे कई ग्राहक की ओर से संजय महंती पर पैसा लौटाने तथा जमीन पर कब्जा दिलाने का दबाव था. इसके बाद संजय महंती ने अपने लोगों के साथ मिलकर साजिश रची  कि अगर शूटर से गाड़ी पर फायरिंग करवा कर उस केस में अशोक प्रधान और संजय प्रधान को फंसाकर जेल भिजवा दिया जाए.

तो इससे अशोक प्रधान पर केस उठाने को लेकर समझौता हो जायेगा और पावर ऑफ आटॉर्नी मिल जाएगी. इसके सात ही सुरक्षा को देखते हुए एक बॉडीगार्ड भी मिल जाएगा. इसी योजना के तहत संजय महंती ने अपने साला शंकर से करीब 60 हजार रुपया और अपने स्टाफ शंकर पाल को करीब डेढ़ लाख रुपया दिया, जिससे कि वो शूटर से संजय की गाड़ी पर फायरिंग करवाये.

एसपी के निर्देश पर किया गया था टीम का गठन

बिल्डर संजय महंती की गाड़ी पर फायरिंग होने की घटना के बाद एसपी मो. अर्शी के निर्देश पर पुलिस टीम का गठन किया गया था. पुलिस की टीम ने मामले की जांच के दौरान पूरे मामले का खुलासा कर दिया और इस घटना में शामिल सात लोगों को गिरफ्तार कर लिया.

इसे भी पढ़ें – अच्छी पहल : बिहार सरकार कोरोना संक्रमण से मरने वाले कर्मचारियों के परिजन को देगी विशेष पेंशन

 

Advertisement

7 Comments

  1. Hi! This is my 1st comment here so I just wanted to give a quick shout out and tell you I really enjoy reading through
    your posts. Can you suggest any other blogs/websites/forums that go over the same topics?
    Thanks a ton! yynxznuh cheap flights

  2. Hi there to all, the contents existing at this site are really remarkable for people experience,
    well, keep up the nice work fellows. 2CSYEon cheap flights

  3. The other day, while I was at work, my cousin stole my iphone and tested to see if it can survive a forty foot drop, just so she can be a youtube sensation. My apple ipad is now broken and she has 83
    views. I know this is totally off topic but I had to share it with someone!
    cheap flights 31muvXS

  4. I’m curious to find out what blog platform you’re utilizing?
    I’m experiencing some small security issues with my latest website and I’d
    like to find something more safeguarded.
    Do you have any recommendations?

  5. I loved as much as you’ll receive carried out right here.
    The sketch is attractive, your authored material stylish.
    nonetheless, you command get bought an nervousness over that
    you wish be delivering the following. unwell unquestionably come more formerly again since exactly
    the same nearly very often inside case you shield this hike.

  6. I do not know whether it’s just me or if perhaps everyone else encountering issues
    with your site. It seems like some of the text on your posts are
    running off the screen. Can someone else please provide feedback
    and let me know if this is happening to them as well? This may be a issue
    with my internet browser because I’ve had this happen before.
    Cheers

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: