National

  हरियाणा के पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा के अलग सुर, कहा,  कांग्रेस रास्ते से भटक गयी है, देश मेरे लिए पहले है

NewDelhi : कांग्रेस रास्ते से भटक गयी है. देश मेरे लिए पहले है. मैने अनुच्छेद 370 हटाने का स्वागत किया है कांग्रेस से नाराज चल रहे हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने रविवार को रोहतक में आयोजित महापरिवर्तन रैली में यह बात कही.  भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने रैली में खुद को मुख्यमंत्री का दावेदार घोषित किया.   कांग्रेस पर हमला करते हुए हुड्डा ने कहा कि पार्टी रास्ते से भटक गई है. हुड्डा ने कहा कि वह 370 हटाने का समर्थन करते हैं. वह देश के साथ हैं. भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा कि मैं यहां अपने सारी पाबंदियों से मुक्त होकर आया हूं. साथ ही उन्होंने खट्टर सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि पांच साल पहले यह सरकार बनी, इस सरकार ने कीटनाशक दवाई पर टैक्स बढ़ा दिया. आज पूरे प्रदेश की स्थिति बिगड़ चुकी है. आरोप लगाया कि भाजपा ने माइनिंग से लेकर हर जगह घोटाला किया है.

भारत और पाकिस्तान के बीच बातचीत होगी. तो केवल पाक अधिकृत कश्मीर पर होगी : राजनाथ सिंह

मैं सबसे पहले अपराधियों का सफाया करूंगा

Catalyst IAS
ram janam hospital

भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने रैली में कहा कि सरकार बनेगी तो मैं सबसे पहले अपराधियों का सफाया करूंगा. दो महीने में सबको अंदर कर दूंगा. किसानों का सबसे पहले कर्जा माफ करूंगा.  2 एकड़ तक के किसानों को बिजली फ्री की सुविधा दूंगा. पुरानी पेंशन व्यवस्था लागू होगी.रैली में उनके बेटे दीपेंद्र सिंह हु के अलावा पूर्व शिक्षा मंत्री और झज्जर विधायक गीता भुक्कल, महम विधायक आनंद सिंह दांगी, बेरी विधायक रघुबीर कादियान भी शामिल हुए.    कांग्रेस से हुड्डा के अलग होने की अटकलों के बीच आयोजित इस रैली में एक दर्जन विधायकों सहित हरियाणा के कई वरिष्ठ बड़े नेता पहुंचे. महापरिवर्तन में हुड्डा ने बड़ा बयान दिया. उन्होंने कहा कि कांग्रेस रास्ते से भटक गयी है. देश मेरे लिए पहले हैं.

The Royal’s
Sanjeevani
Pitambara
Pushpanjali

मैने अनुच्छेद 370 हटाने का स्वागत किया

मैने अनुच्छेद 370 हटाने का स्वागत किया है.कांग्रेस नेतृत्व की अनुमति के बगैर हुड्डा  की ओर से बुलाई आयोजित इस रैली को लेकर तरह-तरह की अटकलें लग रहीं हैं. कहा जा रहा है कि रैली में हुड्डा कांग्रेस से अलग राह पकड़ने की घोषणा कर सकते हैं. हालांकि यह कहा जा रहा है कि इस रैली में हुड्डा एक कमेटी की घोषणा कर सकते हैं. जो कुछ समय में यह रिपोर्ट देगी कि भविष्य के लिए क्या कदम उठाना उचित होगा.   रविवार को आयोजित इस रैली में सोनिया और राहुल गांधी सहित कांग्रेस के अन्य नेताओं की तस्वीरें रैलियों से नदारद हैं, उससे तरह-तरह की चर्चाएं हो रही हैं. इस रैली के जरिए खट्टर सरकार को घेरने की बात कही गयी है.

जान लें कि  सोनिया गांधी ने 2005 में हरियाणा में पार्टी के वरिष्ठ नेता भजनलाल पर भूपेंद्र सिंह हुड्डा को तरजीह दी थी. जिससे नाराज भजनलाल ने कांग्रेस को अलविदा कहकर अपनी अलग पार्टी बना ली थी. जबकि हुड्डा 10 साल तक हरियाणा के मुख्यमंत्री रहे. अब विधानसभा चुनाव से पहले हुड्डा पार्टी आलाकमान को अपनी सियासी ताकत का एहसास कराने के लिए रोहतक में परिवर्तन रैली की है. सूत्रों के अनुसार  भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने रोहतक की परिवर्तन महारैली  में प्रदेश संगठन और ऑल इंडिया कांग्रेस कमेटी के किसी नेता को नहीं बुलाया . ऐसे में माना जा रहा है कि इस रैली में भूपेंद्र सिंह हुड्डा कांग्रेस से नाता तोड़कर अलग अपनी पार्टी बनाने का एलान कर सकते हैं.

इसे भी पढ़ें – जस्टिस चंद्रचूड़ ने कहा,  स्वतंत्रता उन लोगों पर जहर उगलने का माध्यम बन गयी  है, जो अलग तरह से सोचते हैं

Related Articles

Back to top button