न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

सेंसेक्स, निफ्टी की मजबूत शुरुआत, डॉलर के मुकाबले 23 पैसे मजबूत रुपया

634

Mumbai : वैश्विक बाजारों में मजबूत रुख से बुधवार को शुरुआती कारोबार में घरेलू शेयर बाजारों में तेजी देखी गई. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के भविष्य में चीन के साथ व्यापार समझौता होने की संभावनाएं जताने के बाद वैश्विक बाजार में मजबूत रुख रहा.

बंबई शेयर बाजार का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक शुरुआती कारोबार में 202.60 अंक यानी 0.54 प्रतिशत की बढ़त के साथ 37,521.13 अंक पर पहुंच गया. वहीं, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी शुरुआती दौर में 51.40 अंक यानी 0.46 प्रतिशत बढ़कर 11,273.45 अंक पर पहुंच गया.

मंगलवार को सेंसेक्स 227.71 अंक यानी 0.61 प्रतिशत बढ़कर 37,318.53 अंक पर और निफ्टी 73.85 अंक यानी 0.66 प्रतिशत की बढ़त के साथ 11,222.05 अंक पर बंद हुआ था.

इसे भी पढ़ें- अमित शाह के कोलकाता रोड शो में BJP-TMC के बीच हुई हिंसक झड़प, आगजनी और पत्थरबाजी

एशियाई शेयर बाजारों में तेजी का दौर देखा गया

कारोबारियों के मुताबिक , अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के चीन के साथ व्यापार समझौते की संभावनाएं जताने के बाद एशियाई शेयर बाजारों में तेजी का दौर देखा गया.

ट्रंप ने ट्वीट में कहा कि जब सही समय होगा, हम चीन के साथ व्यापार समझौता करेंगे. चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग के लिए सम्मान और दोस्ती असीमित है.

शेयर बाजार के पास मौजूद प्रारंभिक आंकड़ों के मुताबिक, विदेशी निवेशकों ने मंगलवार को शुद्ध रूप से 2,011.85 करोड़ रुपये के शेयर बेचे जबकि घरेलू संस्थागत निवेशक (डीआईआई) 2,242.91 करोड़ रुपये के शेयर के शुद्ध खरीदार रहे.

इसे भी पढ़ें- 12वीं में फेल हुई छात्रा, ट्रेन के आगे कूदकर दी जान

रुपया 23 पैसे मजबूत

अमेरिका – चीन के बीच व्यापार वार्ता की संभावना , घरेलू शेयर बाजारों की शुरुआती बढ़त , कच्चे तेल की कीमतों में नरमी से रुपया बुधवार को शुरुआती कारोबार में डॉलर के मुकाबले 23 पैसे मजबूत होकर 70.21 रुपये प्रति डॉलर पर पहुंच गया.

मुद्रा डीलरों ने कहा कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के मंगलवार को चीन – अमेरिका के व्यापार समझौते तक पहुंचने के संकेत देने के बाद निवेशकों की धारणा को बल मिला. मंगलवार को रुपया डॉलर के मुकाबले सात पैसे सुधर कर 70.44 रुपये प्रति डॉलर पर बंद हुआ था.

इस बीच , विदेशी पूंजी की निकासी से घरेलू मुद्रा पर दबाव रहा और इसने रुपये की तेजी को थामने का प्रयास किया. शेयर बाजार के पास मौजूद प्रारंभिक आंकड़ों के मुताबिक , विदेशी निवेशकों ने मंगलवार को शुद्ध रूप से 2,011.85 करोड़ रुपये की निकासी की. ब्रेंट कच्चा तेल वायदा 0.31 प्रतिशत गिरकर 71.02 डॉलर प्रति बैरल पर चल रहा था.

Related Posts

मोदी की सत्ता के पांच साल, शेयर बाजार निवेशकों की पूंजी 75 लाख करोड़ रुपये बढ़ी  

शेयर बाजार के 16 मई, 2014 से 23 मई, 2019 की तारीख तक के विश्लेषण से  पता चलता है कि इस दौरान बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स 60.89 प्रतिशत या 14,689.65 अंक चढ़ा है

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

hosp22
You might also like
%d bloggers like this: