न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

सेंसेक्स, निफ्टी की मिली-जुली शुरुआत, रुपया 13 पैसे कमजोर

645

Mumbai : विदेशी निवेशकों की सतत निकासी और अमेरिका-चीन व्यापार समझौते को लेकर अनिश्चिता के बीच शुक्रवार को घरेलू शेयर बाजारों में शुरुआती कारोबार में मिलाजुला रुख देखा गया.

बीएसई का 30 शेयर का सूचकांक 150 अंक की बढ़त के साथ खुला लेकिन जल्द ही शुरुआती कारोबार में यह 17.32 अंक यानी 0.15 प्रतिशत की गिरावट के साथ 37,541.59 अंक पर चल रहा है. इसी तरह एनएसई निफ्टी 11,285.75 अंक पर चल रहा है. गुरुवार को सेंसेक्स 37,558.91 अंक और निफ्टी 11,301.80 अंक पर बंद हुआ था.

इसे भी पढ़ेंः15 अगस्त तक टली अयोध्या मामले की सुनवाई, मध्यस्थता के लिए SC ने दिया और तीन महीने का वक्त

निवेशकों का रुख सावधानी भरा

ब्रोकरों के अनुसार अमेरिका-चीन के बीच व्यापार समझौते के लिए 11वें दौर की वार्ता के नतीजों से पहले निवेशकों का रुख सावधानी भरा देखा गया है. इसी बीच गुरुवार को अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने चीन के साथ व्यापार समझौता होने की उम्मीद जतायी.

हालांकि ट्रंप सरकार ने शुक्रवार को चीन से आयात किए जाने वाले 200 अरब डॉलर के सामान पर शुल्क को 10 प्रतिशत से बढ़ाकर 25 प्रतिशत कर दिया है. वहीं आरंभिक आंकड़ों के अनुसार विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों ने बृहस्पतिवार को शेयर बाजारों से 655.36 करोड़ रुपये की निकासी की.

इसे भी पढ़ेंःकनाडाई अक्षय कुमार के INS सुमित्रा पर सवार होने को लेकर कांग्रेस ने मोदी को घेरा

13 पैसे कमजोर रुपया 

शुरुआती कारोबार में शुक्रवार को डॉलर के मुकाबले रुपया 13 पैसे कमजोर रहकर 70.07 पर खुला. मुद्रा कारोबारियों के अनुसार अन्य विदेशी मुद्राओं के मुकाबले डॉलर के मजबूत होने और कच्चे तेल की कीमतों में तेजी का असर रुपये पर पड़ा है.

इसके अलावा विदेशी निवेशकों की सतत निकासी और अमेरिका-चीन व्यापार समझौते से जुड़ी चिंताओं ने भी निवेशकों की धारणा प्रभावित की है. अंतरबैंक विदेशी मुद्रा बाजार पर रुपये की शुरुआत शुक्रवार को डॉलर के मुकाबले 70.04 के स्तर से हुई लेकिन कुछ ही देर में यह पिछले बंद स्तर से 13 पैसे कमजोर हो गया और 70.07 रुपये प्रति डॉलर के स्तर पर चल रहा है. गुरुवार को डॉलर के मुकाबले रुपया 69.94 पर बंद हुआ था.

इसी बीच बृहस्पतिवार को अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने चीन के साथ व्यापार समझौता होने की उम्मीद जतायी. आरंभिक आंकड़ों के अनुसार विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों ने गुरुवार को शेयर बाजारों से 655.36 करोड़ रुपये की निकासी की. वहीं ब्रेंट कच्चा तेल 0.31 प्रतिशत बढ़कर 70.61 डॉलर प्रति बैरल पर चल रहा है.

Related Posts

मोदी की सत्ता के पांच साल, शेयर बाजार निवेशकों की पूंजी 75 लाख करोड़ रुपये बढ़ी  

शेयर बाजार के 16 मई, 2014 से 23 मई, 2019 की तारीख तक के विश्लेषण से  पता चलता है कि इस दौरान बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स 60.89 प्रतिशत या 14,689.65 अंक चढ़ा है

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

hosp22
You might also like
%d bloggers like this: