न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

वैश्विक संकेतों के कारण सेंसेक्स की 250 अंक से ज्यादा बढ़त, रुपया चार पैसे कमजोर

692

Mumbai अमेरिका-चीन के बीच व्यापार वार्ता और अन्य एशियाई बाजारों के सकारात्मक संकेतों के चलते बीएसई सेंसेक्स की शुरुआत मंगलवार को 250 अंक से ज्यादा की बढ़त के साथ हुई.

बीएसई का 30 कंपनियों का शेयर सूचकांक सेंसेक्स 256.08 अंक अथवा 0.68 प्रतिशत बढ़कर 37,942.45 अंक पर चल रहा है. वहीं एनएसई का 50 कंपनियों वाला शेयर सूचकांक 74.35 अंक यानी 0.66 प्रतिशत की बढ़त के साथ 11,263.55 अंक पर चल रहा है.

Aqua Spa Salon 5/02/2020

इसे भी पढ़ें- भारत में बर्बादी की कगार पर मोबाइल हैंडसेट सेक्टर, गयी 2.5 लाख से ज्यादा लोगों की नौकरियां

बाजार को अमेरिकी फेडरल रिजर्व की बैठक का है इंतजार

पिछले सत्र के कारोबार में सेंसेक्स 37,688.28 अंक और निफ्टी 11,189.20 अंक पर बंद हुआ था. अमेरिका और चीन के बीच मंगलवार को फिर से व्यापार वार्ता शुरू होनी है. यह इस मई में पहले दौर की वार्ता विफल होने के बाद फिर से शुरू होने वाली बातचीत है.

ब्रोकरों के अनुसार इस बैठक के सकारात्मक परिणाम आने की उम्मीद को लेकर निवेशक संशय में है. हालांकि वैश्विक निवेशकों के बीच धारणा मजबूत देखी गयी, लेकिन उनके भी सावधानी भरे रुख के चलते बाजार में बढ़त थम गयी.

इसके अलावा बाजार को बुधवार को होने वाली अमेरिकी फेडरल रिजर्व की बैठक का भी इंतजार है. इसी बीच विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों ने सोमवार को 704.42 करोड़ रुपये की निकासी की. ब्रेंट कच्चा तेल 0.42 प्रतिशत बढ़कर 63.98 डॉलर प्रति बैरल पर चल रहा है.

इसे भी पढ़ें- CCD के मालिक व पूर्व विदेश मंत्री के दामाद वीजी सिद्धार्थ लापता, सुसाइड की आशंका

Gupta Jewellers 20-02 to 25-02

रुपया चार पैसे कमजोर

कच्चे तेल की कीमतों में तेजी और विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) की सतत निकासी से डॉलर के मुकाबले मंगलवार को रुपया चार पैसे टूटकर 68.79 पर खुला. मुद्रा कारोबारियों के अनुसार संघीय मुक्त व्यापार समिति की मंगलवार को होने वाली बैठक को लेकर निवेशकों का रुख सावधानी भरा है. इसलिए रुपये में कारोबार सीमित दायरे में रहा.

अमेरिकी डॉलर के अन्य विदेशी मुद्राओं के मुकाबले मजबूत होने का असर भी घरेलू मुद्रा पर पड़ा है. अंतरबैंक विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार पर रुपये की शुरुआत 68.73 रुपये प्रति डॉलर के कमजोर रुख के साथ हुई. जल्द ही यह पिछले बंद के मुकाबले चार पैसे गिर गया और 68.79 रुपये प्रति डॉलर पर चल रहा है.

सोमवार को डॉलर के मुकाबले रुपया 68.75 पर बंद हुआ था. इसके अलावा बाजार निवेशकों की नजर अमेरिका-चीन के बीच मंगलवार को होने वाली व्यापार वार्ता पर है. इसने भी रुपये की चाल को प्रभावित किया है.

इसी बीच विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों ने सोमवार को 704.42 करोड़ रुपये की निकासी की. ब्रेंट कच्चा तेल 0.42 प्रतिशत बढ़कर 63.98 डॉलर प्रति बैरल पर चल रहा है.

Related Posts

#Dedicated_Freight_Corridor_Corporation का गलियारा शुरू होते ही  70 प्रतिशत मालगाड़ियों को जाम से निजात मिलेगी

देश में मालवाहक रेलगाड़ियों की गति को 100 किलोमीटर प्रति घंटे तक पहुंचाने का लक्ष्य तय किये जाने के साथ ही भारतीय रेलवे के 70 प्रतिशत मालवहन बोझ के खत्म होने की उम्मीद है.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like